प्रियंका बोलीं महापुरुषों की मूर्तियां तोड़ने वाले हैं कायर, यही है उनके जीवन की उपलब्धि

Priyanka gandhi
विकास दुबे एनकाउंटर: प्रियंका गांधी बोलीं-अपराध और उसको सरंक्षण देने वाले लोगों का क्या?

लखनऊ। हाल ही में उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में अम्बेडकर और जालौन में महात्मा गांधी जी की प्रतिमाओं को कुछ अराजकतत्वों द्वारा तोड़कर खंडित कर दिया गया था। जिसके बाद कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने टि्वट कर ऐसे लोगों को कायर कहा है। उन्होने टि्वट में कहा ”कुछ दिनों पहले उप्र में बाबासाहेब अम्बेडकर जी की मूर्ति को असामाजिक तत्वों ने तोड़ा। अब जालौन में महात्मा गांधीजी की मूर्ति को तोड़ा गया। मूर्ति तोड़ने वाले कायरों, जीवन में यही तुम्हारी उपलब्धि है कि रात के अंधेरे में छिपकर तुम देश के महापुरुषों का अपमान करने की कोशिश करते हो? मूर्तियों पर हमला करके इन महापुरुषों की महानता का एक अंश भी तुम हिला-डुला नहीं सकते।

Priyanka Said That The Idols Of Great Men Are Going To Break The Coward This Is The Achievement Of Their Life :

दरसल जालौन में स्टेशन रोड के पास गांधी इंटर कालेज के गेट के ऊपर बापू की एक प्रतिमा लगी थी जिसे खंडित कर दिया गया। जब सुबह रोजाना की तरह विद्यालय के चौकीदार आया तो उसने देखा कि प्रतिमा का सिर अलग पड़ा है। जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पंहुची और छानबीन शुरू कर दी वहीं मौके पर पंहुचे तमाम कांग्रेसी नेताओं ने भी विरोध जताया है। इस मामले को लेकर सरकार के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी हुई है।

लखनऊ। हाल ही में उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में अम्बेडकर और जालौन में महात्मा गांधी जी की प्रतिमाओं को कुछ अराजकतत्वों द्वारा तोड़कर खंडित कर दिया गया था। जिसके बाद कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने टि्वट कर ऐसे लोगों को कायर कहा है। उन्होने टि्वट में कहा ''कुछ दिनों पहले उप्र में बाबासाहेब अम्बेडकर जी की मूर्ति को असामाजिक तत्वों ने तोड़ा। अब जालौन में महात्मा गांधीजी की मूर्ति को तोड़ा गया। मूर्ति तोड़ने वाले कायरों, जीवन में यही तुम्हारी उपलब्धि है कि रात के अंधेरे में छिपकर तुम देश के महापुरुषों का अपमान करने की कोशिश करते हो? मूर्तियों पर हमला करके इन महापुरुषों की महानता का एक अंश भी तुम हिला-डुला नहीं सकते। दरसल जालौन में स्टेशन रोड के पास गांधी इंटर कालेज के गेट के ऊपर बापू की एक प्रतिमा लगी थी जिसे खंडित कर दिया गया। जब सुबह रोजाना की तरह विद्यालय के चौकीदार आया तो उसने देखा कि प्रतिमा का सिर अलग पड़ा है। जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पंहुची और छानबीन शुरू कर दी वहीं मौके पर पंहुचे तमाम कांग्रेसी नेताओं ने भी विरोध जताया है। इस मामले को लेकर सरकार के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी हुई है।