बुंदेलखंड में किसानों की खुदकुशी पर बोलीं प्रियंका-CM की मैपिंग में इनकी जगह नहीं

priyanka gandhi
बुंदेलखंड में किसानों की खुदकुशी पर बोलीं प्रियंका—CM की मैपिंग में इनकी जगह नहीं

लखनऊ। कांग्रेस महासिचव प्रियंका गांधी ने एक बार फिर प्रदेश की योगी सरकार पर हमला बोला है। इस बार उन्होंने बुंदेलखंड में किसानों की खुदकुशी को लेकर हमला बोला है। प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि, बुंदेलखंड में पिछले एक हफ्ते में चार किसानों और मजदूरों ने आत्महत्या कर ली।

Priyanka Spoke On Farmers Suicide In Bundelkhand No Place In Mapping Of Cm :

इसमें वे प्रवासी मजदूर भी थे, जो बाहर से लौटे थे। लखनऊ में बैठे यूपी के सीएम और अधिकारी रोज मैपिंग करवाने की बात कर रहे हैं। दुख की बात है कि उनके मैप में इन किसानों और प्रवासी मजदूरों की जगह नहीं है। इससे पहले प्रियंका गांधी ने दावा किया था कि आज यूपी में MA-BED किए हुए युवा मनरेगा में काम करने को मजबूर हैं।

प्रियंका गांधी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि उप्र में युवाओं के लिए की गईं तमाम घोषणाएं कोरी साबित हुई हैं। एक तरफ एक बेरोजगार महिला के नाम पर 25 फर्जी शिक्षक भर्ती हैं, नकल गिरोह के जरिए शिक्षक भर्ती में अयोग्य लोग एंट्री ले रहे हैं।

लेकिन एमए, बीएससी, बीएड किए लोग मनरेगा में काम करने को मजबूर हैं। ये जमीनी हकीकत है। गौरतलब है कि प्रियंका गांधी पिछले कई दिनों से लगातार शिक्षक भर्ती में चल रही गड़बड़ियों का मसला ट्विटर पर उठा रही हैं और इसकी देरी के लिए योगी सरकार को जिम्मेदार बता रही हैं।

लखनऊ। कांग्रेस महासिचव प्रियंका गांधी ने एक बार फिर प्रदेश की योगी सरकार पर हमला बोला है। इस बार उन्होंने बुंदेलखंड में किसानों की खुदकुशी को लेकर हमला बोला है। प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि, बुंदेलखंड में पिछले एक हफ्ते में चार किसानों और मजदूरों ने आत्महत्या कर ली। इसमें वे प्रवासी मजदूर भी थे, जो बाहर से लौटे थे। लखनऊ में बैठे यूपी के सीएम और अधिकारी रोज मैपिंग करवाने की बात कर रहे हैं। दुख की बात है कि उनके मैप में इन किसानों और प्रवासी मजदूरों की जगह नहीं है। इससे पहले प्रियंका गांधी ने दावा किया था कि आज यूपी में MA-BED किए हुए युवा मनरेगा में काम करने को मजबूर हैं। प्रियंका गांधी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि उप्र में युवाओं के लिए की गईं तमाम घोषणाएं कोरी साबित हुई हैं। एक तरफ एक बेरोजगार महिला के नाम पर 25 फर्जी शिक्षक भर्ती हैं, नकल गिरोह के जरिए शिक्षक भर्ती में अयोग्य लोग एंट्री ले रहे हैं। लेकिन एमए, बीएससी, बीएड किए लोग मनरेगा में काम करने को मजबूर हैं। ये जमीनी हकीकत है। गौरतलब है कि प्रियंका गांधी पिछले कई दिनों से लगातार शिक्षक भर्ती में चल रही गड़बड़ियों का मसला ट्विटर पर उठा रही हैं और इसकी देरी के लिए योगी सरकार को जिम्मेदार बता रही हैं।