यूपी के मुजफ्फरनगर पहुंचीं प्रियंका वाड्रा, हिंसा पीड़ितों से की मुलाकात

priyanka gandhi
यूपी के मुजफ्फरनगर पहुंचीं प्रियंका वाड्रा, हिंसा पीड़ितों से की मुलाकात

मुजफ्फरनगर। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा शनिवार सुबह अचानक मुजफ्फरनगर पहुंच गईं । प्रियंका वाड्रा सीधे मौलाना असद के घर पहुंचीं जहां उन्होंने सीएए हिंसा पीड़ित लोगों से बात की। प्रियंका वाड्रा के साथ कांग्रेस नेता इमरान मसूद और पूर्व विधायक पंकज मलिक भी मौजूद हैं।

Priyanka Vadra Reaches Muzaffarnagar In Up Meets Violence Victims :

श्रीमती वाड्रा का काफिला नहर की पटरी से होते हुए मुजफ्फरनगर पहुंचा। कांग्रेसियों के अनुसार प्रियंका वाड्रा उपद्रव में मारे गए मृतक के परिजनों से मुलाकात करेंगी। यह भी बताया जा रहा है कि प्रियंका वाड्रा वापस लौटते वक्त मेरठ होते हुए जाएंगी। वहां भी वह हिंसा पीड़ितों से मुलाकात करेंगी।

बता दें कि इसके पूर्व 24 दिसंबर को मेरठ आ रहे कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को मेरठ पुलिस ने परतापुर थाने के पास ही रोक दिया था। पुलिस के आग्रह पर वे दिल्ली लौट गए थे। बिजनौर के बाद अब मेरठ आ रहीं प्रियंका गांधी ने फोन पर ही हिंसा में मारे गए लोगों के परिजनों से बात की और उन्हें भरोसा दिलाया कि वे उनके साथ हैं। जल्द मिलने भी आएंगी।।

गौरतलब है कि मुजफ्फरनगर में हुए उपद्रव में एक युवक की मौत हो गई थी। शहर के मीनाक्षी चौक के पास उग्र भीड़ ने प्रदर्शन कर पथराव, तोड़फोड़ और आगजनी की थी। इस दौरान पांच बाइक और स्कूटी के अलावा दर्जनों वाहन में आग लगा दी थी। अस्थायी पुलिस चौकी भी फूंक दी गई थी। गोलीबारी में तीन लोग घायल हुए थे। पुलिस ने आंसू गैस के गोले और लाठीचार्ज किया था।

मुजफ्फरनगर। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा शनिवार सुबह अचानक मुजफ्फरनगर पहुंच गईं । प्रियंका वाड्रा सीधे मौलाना असद के घर पहुंचीं जहां उन्होंने सीएए हिंसा पीड़ित लोगों से बात की। प्रियंका वाड्रा के साथ कांग्रेस नेता इमरान मसूद और पूर्व विधायक पंकज मलिक भी मौजूद हैं। श्रीमती वाड्रा का काफिला नहर की पटरी से होते हुए मुजफ्फरनगर पहुंचा। कांग्रेसियों के अनुसार प्रियंका वाड्रा उपद्रव में मारे गए मृतक के परिजनों से मुलाकात करेंगी। यह भी बताया जा रहा है कि प्रियंका वाड्रा वापस लौटते वक्त मेरठ होते हुए जाएंगी। वहां भी वह हिंसा पीड़ितों से मुलाकात करेंगी। बता दें कि इसके पूर्व 24 दिसंबर को मेरठ आ रहे कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को मेरठ पुलिस ने परतापुर थाने के पास ही रोक दिया था। पुलिस के आग्रह पर वे दिल्ली लौट गए थे। बिजनौर के बाद अब मेरठ आ रहीं प्रियंका गांधी ने फोन पर ही हिंसा में मारे गए लोगों के परिजनों से बात की और उन्हें भरोसा दिलाया कि वे उनके साथ हैं। जल्द मिलने भी आएंगी।। गौरतलब है कि मुजफ्फरनगर में हुए उपद्रव में एक युवक की मौत हो गई थी। शहर के मीनाक्षी चौक के पास उग्र भीड़ ने प्रदर्शन कर पथराव, तोड़फोड़ और आगजनी की थी। इस दौरान पांच बाइक और स्कूटी के अलावा दर्जनों वाहन में आग लगा दी थी। अस्थायी पुलिस चौकी भी फूंक दी गई थी। गोलीबारी में तीन लोग घायल हुए थे। पुलिस ने आंसू गैस के गोले और लाठीचार्ज किया था।