प्रो कबड्डी लीग : बेंगलुरू को हरा तमिल थलाइवाज ने खोला खाता

नागपुर |अपने दूसरे घर में जीत के साथ आगाज करने वाली बेंगलुरू की टीम घरेलू चरण का अंत जीत के साथ नहीं कर सकी। उसने यहां पहले मैच में तमिल थलाइवाज को 32-31 से हराया था लेकिन अंतिम मैच में वह गुरुवार को थलाइवाज से ही हार गई। थलाइवाज ने मानकापुर स्टेडियम में गुरुवार को हुए मैच में बेंगलुरू को 24-29 से हरा कर लीग में अपनी पहली जीत हासिल की।

बेंगलुरू के कप्तान रोहित कुमार ने जरूर सुपर 10 मारते हुए 12 अंक जुटाए लेकिन उनके अलावा पूरी टीम विफल रही। थलाइवाज के लिए के. प्रपंजन ने छह अंक लिए। उसके कप्तान अजय ठाकुर मैट पर ज्यादा देर नहीं रहे और उनकी जगह कोच ने अतिरिक्त खिलाड़ी उतारा।

{ यह भी पढ़ें:- प्रो कबड्डी लीग : बेहद रोमांचक मुकाबले में यूपी योद्धा ने तेलुगू को हराया }

पहला अंक लेने के बाद थलाइवाज की टीम 2-0 से आगे थी। अजय कुमार ने फिर बेंगलुरू का खाता खोला और फिर कप्तान रोहित ने सफल रेड मारते हुए दो अंक लेकर अपनी टीम को 3-2 की बढ़त दिला दी।

कुछ देर तक आगे निकलने और बराबरी का खेल चलता रहा। कभी कोई टीम आगे होती तो कभी दूसरी। स्कोर 6-6 से बराबर था। फिर थलाइवाज की टीम ने बढ़त ली और उसे कायम रखते हुए हाफ टाइम में 12-8 की बढ़त के साथ गई। पिछड़ने के अलावा मेजबान टीम के लिए बुरी बात यह थी कि उसके दो मुख्य खिलाड़ी रोहित और अजय मैट से बाहर थे।

{ यह भी पढ़ें:- प्रो कबड्डी लीग: यूपी योद्धा और तमिल का रोचक मुकाबला ड्रा रहा }

दूसरे हाफ में आते ही उस पर ऑल आउट का खतरा था जिसे थलाइवाज ने हासिल किया और 16-9 की बढ़त ले ली।

यहां से फिर बेंगलुरू ने शानदार खेल दिखाते हुए मैच में वापसी की कोशिश की। धीरे-धीरे अंक लेकर वह 16-20 पर आ गई थी और तभी उसने थलाइवाज को 31वें मिनट में ऑल आउट कर स्कोर 19-21 किया। यहां से बेंगलुरू लगातार अंकों के अंतर को कम करने और बराबरी की कोशिश में थी, लेकिन काफी प्रयासों के बाद भी वह मामूली अंतर से चूक गई और अपने दूसरे घर में उसे तीसरी हार मिली।

नागपुर में बेंगलुरू ने कुल छह मैच खेले जिसमें से उसे दो जीत और तीन हार मिली जबिक उसका एक मैच ड्रॉ रहा।

{ यह भी पढ़ें:- प्रो कबड्डी लीग: बेहद रोचक मुकाबले में बंगाल वॉरियर्स के हाथों हारा यूपी योद्धा }