जल्द ही बदलने वाला है ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने का तरीका

ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने का तरीका
जल्द ही बदलने वाला है ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने का तरीका

Process Of Driving License Will Change Soon

नई दिल्ली। अब जल्द ही दिल्ली में ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए आपको नए टेस्ट देने होंगे दरअसल, जल्द ही ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने का तरीका बदलने वाला है। अब पूरा प्रोसस कंप्यूटरीकृत होगा, 31 अक्टूबर तक परिवहन विभाग के सभी (अथॉरिटी) क्षेत्रीय कार्यालयों में स्थायी लाइसेंस बनवाने के लिए मैनुअल टेस्ट का तरीका बदल जाएगा। इसके लिए स्वचालित (ऑटोमेटेड) ड्राइविंग टेस्ट होगा। पहले की तरह अब ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए कोई सिफारिश नहीं चलेगी। निरीक्षकों की भागीदारी न के बराबर हो जाएगी।

आपको बता दे कि परिवहन निगम की 12 अथॉरिटी हैं, जहां ड्राइविंग लाइसेंस बनते हैं। परिवहन विभाग ने इन सभी के लिए लाइसेंस बनवाने का तरीका स्वचालित करने का फैसला लिया है। सराय काले खां और शेख सराय अथॉरिटी में यह सुविधा शुरू हो चुकी है। जबकि 10 अन्य अथॉरिटी में अगस्त से यह सुविधा शुरू होनी थी, मगर तैयारी पूरी न होने के कारण अब इन्हें अक्टूबर तक शुरू किया जाएगा।

विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए इस टेस्ट को पास करना अनिवार्य कर दिया जाएगा साथ ही इसका वीडियो भी बनाया जाएगा। लाइसेंस के लिए आवेदन करने वाला ही टेस्ट देने आया है इस बात को कनफर्म करने के लिए कार के अंदर भी कैमरा लगाया जाएगा। जो लोग टेस्ट नहीं पास कर पाएंगे, वे अगर चाहेंगे तो उन्हें टेस्ट की वीडियो रिकॉडिंग भी दी जाएगी, ताकि उन्हें पता चल सके कि टेस्ट पास न करने के क्या कारण रहे हैं।

नई दिल्ली। अब जल्द ही दिल्ली में ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए आपको नए टेस्ट देने होंगे दरअसल, जल्द ही ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने का तरीका बदलने वाला है। अब पूरा प्रोसस कंप्यूटरीकृत होगा, 31 अक्टूबर तक परिवहन विभाग के सभी (अथॉरिटी) क्षेत्रीय कार्यालयों में स्थायी लाइसेंस बनवाने के लिए मैनुअल टेस्ट का तरीका बदल जाएगा। इसके लिए स्वचालित (ऑटोमेटेड) ड्राइविंग टेस्ट होगा। पहले की तरह अब ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए कोई सिफारिश नहीं चलेगी। निरीक्षकों की भागीदारी न के…