1. हिन्दी समाचार
  2. कैबिनेट ​मीटिंग से पहले लोकभवन में प्रदर्शन, पुलिस पर कार्रवाई की मांग पर अड़े सचिवालय सेवा संघ के कर्मचारी

कैबिनेट ​मीटिंग से पहले लोकभवन में प्रदर्शन, पुलिस पर कार्रवाई की मांग पर अड़े सचिवालय सेवा संघ के कर्मचारी

Protest By Secretariat Employees In Lucknow Before Cabinet Meeting Of Yogi Adityanath

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के कैसरबाग कोतवाली में कार छुड़ाने गए समीक्षा अधिकारी मनोज कुमार प्रजापति ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाया है। उनका आरोप है कि सीओ कैसरबाग अमित कुमार राय के साथ मौजूद दारोगा और होमगार्डों ने उनके साथ बदसलूकी की।

पढ़ें :- आलू की कीमतें कम करने के लिए सरकार ने उठाया ये कदम, जानिए

विरोध पर उनको बंधक बनाकर पुलिसकर्मियों ने पीटा। घसीटते हुए हवालात में ले जाकर बंद कर दिया। मामला तूल पकड़ते ही इस मुद्दे पर मंगलवार को सचिवालय कर्मियों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दफ्तर में जोरदार प्रदर्शन किया। साथ ही कैसरबाग पुलिस के खिलाफ सचिवालय संघ ने मोर्चा खोल दिया है।

वहीं दूसरी तरफ पुलिस का कहना है कि, प्रजापति पुलिस की काम में बाधा डाल रहे थे। इस दौरान इन्होंने पुलिस के साथ अभद्रता की और धमकी दी। इस कारण उनके खिलाफ शांतिभंग की कार्रवाई की गयी। वहीं इस घटना से नाराज समीक्षा अधिकारियों ने पुलिस पर उत्तीपड़न का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग शुरू कर दी।

मंगलवार साढ़े 11 बजे सचिवालय कर्मियों ने पुलिस उत्तीपड़ के खिलाफ प्रदर्शन शुरू कर दिया। इनके समर्थन में सैकड़ों कर्मचारी आ गए और सीओ कैसरबाग समेत अन्य पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की मांग को लेकर नारेजबारी शुरू कर दी।

धरना प्रदर्शन की सूचना पर पहुंचे प्रमुख गृह सचिव अवनीश अवस्थी ने कर्मचारियों को कार्रवाई का आश्वासन दिया। वहीं इस मामले को लेकर जांच कमेटी बनाने को कहा गया है, जो 24 घण्टे में अपनी रिपेार्ट देगी। रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई करने की बात कही गई है।

पढ़ें :- कोरोना संकट में यूपी को मिले 45000 करोड़ के निवेश प्रस्ताव, देश विदेश की कंपनियां शामिल

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...