Protest: अखिलेश के समर्थन में उतरे कार्यकर्ता, पूरे प्रदेश में प्रदर्शन और नारेबाजी

c

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम और सपा मुखिया अखिलेश यादव को लखनऊ एयरपोर्ट पर प्रयागराज जाने से रोकने का मामला राजनीतिक रूप लेता जा रहा है। खुद अखिलेश ने मामले पर प्रेस कांफेंस करते हुए योगी सरकार पर गंभीर आरोप लगाया है।

Protest Of Samjwadi Workers In Different Parts Of State :

वहीं अखिलेश को एयरपोर्ट पर रोके जाने के बाद पूूरे प्रदेश भर में सपाइयों ने का प्रदर्शन शुरू हो गया है। लखनऊ में सपा कार्यकर्ताओं ने राजभवन जाकर प्रदर्शन किया और गेट के पास नारेबाजी की। सपाइयों ने आरोप लगाया कि योगी सरकार तानाशाही पर उतर आई है और सपा मुखिया को युवाओं से नहीं मिलने देना चाहती। प्रयागराज में अखिलेश के न पहुंचने आक्रोशित छात्रों ने नारेबाजी की और कहा कि योगी सरकार की तानाशाही को सपा बर्दाश्त नहीं करेगी।

संभल में सपाइयों ने आगजनी की। जिससे कुछ देर के लिए अराजकता की स्थिति उत्पन्न हो गई। सोनभद्र के राबट्र्सगंज बढौली चौराहे पर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता सड़क जाम कर विरेध प्रदर्शन कर रहे है। वहीं चंदौली में सपा के सपा के लोगों ने प्रदर्शन किया। सपा के लोग मुख्यालय स्थित धरना स्थल पर बैठ गए। सकलडीहा में सपाईयों ने केन्द्र व राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

जौनपुर में सपा कार्यकर्ताओं ने धरना प्रदर्शन कर के सड़क जाम कर लिया। साथ ही कलेक्ट्रेट में ज्ञापन सौंपा। इस जाम में एंबुलेंस भी फंसी रही जिससे मरीजों को परेशानी हुई। मिर्जापुर में सपा के लोगों ने भरूहना चौराहे पर जाम लगाया। मऊ में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बालनिकेतन चौराहे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंक कर सड़क पर विरोध प्रदर्शन किया।

साथ ही लोकतंत्र और तानाशाही के विरोध में कलेक्ट्रट पहुंचकर राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी प्रकास बिंदु को सौंपा। भदोही में भी सपा कार्यकर्ताओं ने ज्ञानपुर के दुर्गागंज तिराहे पर जाम लगाया।

आजमगढ़ में भी यही स्थिति रही। यहां पर सपा और बसपा दोनों के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। वहीं वाराणसी में मुख्यालय पर सपा कार्यकर्ताओं और पुलिस कर्मियों के बीच नोकझोंक हुई। कलेक्ट्रेट के अंदर डीएम पोर्टिको पर सपाईयों ने प्रदर्शन किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ लगाए नारे लगाए। साथ ही लंका रोड पर सपा कार्यकर्ताओं ने सड़क जाम कर दिया।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम और सपा मुखिया अखिलेश यादव को लखनऊ एयरपोर्ट पर प्रयागराज जाने से रोकने का मामला राजनीतिक रूप लेता जा रहा है। खुद अखिलेश ने मामले पर प्रेस कांफेंस करते हुए योगी सरकार पर गंभीर आरोप लगाया है।वहीं अखिलेश को एयरपोर्ट पर रोके जाने के बाद पूूरे प्रदेश भर में सपाइयों ने का प्रदर्शन शुरू हो गया है। लखनऊ में सपा कार्यकर्ताओं ने राजभवन जाकर प्रदर्शन किया और गेट के पास नारेबाजी की। सपाइयों ने आरोप लगाया कि योगी सरकार तानाशाही पर उतर आई है और सपा मुखिया को युवाओं से नहीं मिलने देना चाहती। प्रयागराज में अखिलेश के न पहुंचने आक्रोशित छात्रों ने नारेबाजी की और कहा कि योगी सरकार की तानाशाही को सपा बर्दाश्त नहीं करेगी।संभल में सपाइयों ने आगजनी की। जिससे कुछ देर के लिए अराजकता की स्थिति उत्पन्न हो गई। सोनभद्र के राबट्र्सगंज बढौली चौराहे पर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता सड़क जाम कर विरेध प्रदर्शन कर रहे है। वहीं चंदौली में सपा के सपा के लोगों ने प्रदर्शन किया। सपा के लोग मुख्यालय स्थित धरना स्थल पर बैठ गए। सकलडीहा में सपाईयों ने केन्द्र व राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।जौनपुर में सपा कार्यकर्ताओं ने धरना प्रदर्शन कर के सड़क जाम कर लिया। साथ ही कलेक्ट्रेट में ज्ञापन सौंपा। इस जाम में एंबुलेंस भी फंसी रही जिससे मरीजों को परेशानी हुई। मिर्जापुर में सपा के लोगों ने भरूहना चौराहे पर जाम लगाया। मऊ में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बालनिकेतन चौराहे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंक कर सड़क पर विरोध प्रदर्शन किया।साथ ही लोकतंत्र और तानाशाही के विरोध में कलेक्ट्रट पहुंचकर राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी प्रकास बिंदु को सौंपा। भदोही में भी सपा कार्यकर्ताओं ने ज्ञानपुर के दुर्गागंज तिराहे पर जाम लगाया।आजमगढ़ में भी यही स्थिति रही। यहां पर सपा और बसपा दोनों के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। वहीं वाराणसी में मुख्यालय पर सपा कार्यकर्ताओं और पुलिस कर्मियों के बीच नोकझोंक हुई। कलेक्ट्रेट के अंदर डीएम पोर्टिको पर सपाईयों ने प्रदर्शन किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ लगाए नारे लगाए। साथ ही लंका रोड पर सपा कार्यकर्ताओं ने सड़क जाम कर दिया।