PUBG Mobile: पबजी मोबाइल एक बार फिर बना मौत का कारण, जानें पूरा मामला

PUBG
PUBG Mobile: पबजी मोबाइल एक बार फिर बना मौत का कारण, जानें पूरा मामला

नई दिल्ली। अभी हाल ही में भोपाल की एक खबर आई थी जिसमें पबजी गेम खेलने के दौरान एक छात्र की कार्डियक अरेस्ट से मृत्यु हो गई थी। इतना ही इस गेम की लोकप्रियता को देखते हुए रिपोर्ट जारी हुई जिसमें पबजी मोबाइल को दुनिया का सबसे ज्यादा कमाई करने वाला गेम बताया गया है। अगर बिजनेस के तौर पर देखे तो यह एक अच्छी खबर है लेकिन पबजी का दूसरा पहलू यह भी है इसके कारण लोगों की आदत खराब हो रही है और इसके पागलपन में लोग अपनी जान भी दे रहे हैं। नई खबर बिहार के भागलपुर जिले से है जहां एक 17 साल के लड़के ने पबजी खेलते-खेलते आत्महत्या कर ली है।

Pubg Mobile Once Again Became The Reason For Death :

दरअसल, यह घटना बिहार के भागलपुर के दाउदबाट की है। रिपोर्ट के मुताबिक पीयूष नाम का एक लड़का शाम से ही अपने फोन पर पबजी खेल रहा था। रात के 10 बजे उसकी मां ने उसे खाना खाने के लिए बुलाया और पबजी खेलने से मना किया।

वहीं जब मां के मना करने पर पीयूष ने गुस्से में बोला- ‘जब मेरा मन करेगा, मैं खा लूंगा। मुझे टेंशन मत दो।’ इसके बाद रात के 11 बजे उसे पिता खाना लेकर छत पर उसके कमरे में गए तो देखा कि उनका बेटा फंदे से लटक रहा है। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई और पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया।

बता दें, पोस्टमार्टम के बाद एसएसपी आशीष भारती का कहना है कि पबजी खेलने के दौरान उसके ग्रुप के मेंबर्स लगातार मारे जा रहे थे जिससे वह काफी परेशान था और और इसलिए उसने आत्महत्या कर ली। भारती ने अन्य लोगों से भी अपने बच्चों पर नजर रखने को कहा है।

साथ ही मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पीयूष के कमरे से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है जिसमें उसने मौत के लिए खुद को जिम्मेदार बताया है। उसने नोट में माता-पिता से अपने बच्चों पर किसी चीज के लिए दबाव ना बनाने की अपील भी की है। पीयूष ने नोट में लिखा है कि बच्चों पर दबाव बनाने से वे और खराब हो जाते हैं।

नई दिल्ली। अभी हाल ही में भोपाल की एक खबर आई थी जिसमें पबजी गेम खेलने के दौरान एक छात्र की कार्डियक अरेस्ट से मृत्यु हो गई थी। इतना ही इस गेम की लोकप्रियता को देखते हुए रिपोर्ट जारी हुई जिसमें पबजी मोबाइल को दुनिया का सबसे ज्यादा कमाई करने वाला गेम बताया गया है। अगर बिजनेस के तौर पर देखे तो यह एक अच्छी खबर है लेकिन पबजी का दूसरा पहलू यह भी है इसके कारण लोगों की आदत खराब हो रही है और इसके पागलपन में लोग अपनी जान भी दे रहे हैं। नई खबर बिहार के भागलपुर जिले से है जहां एक 17 साल के लड़के ने पबजी खेलते-खेलते आत्महत्या कर ली है। दरअसल, यह घटना बिहार के भागलपुर के दाउदबाट की है। रिपोर्ट के मुताबिक पीयूष नाम का एक लड़का शाम से ही अपने फोन पर पबजी खेल रहा था। रात के 10 बजे उसकी मां ने उसे खाना खाने के लिए बुलाया और पबजी खेलने से मना किया। वहीं जब मां के मना करने पर पीयूष ने गुस्से में बोला- 'जब मेरा मन करेगा, मैं खा लूंगा। मुझे टेंशन मत दो।' इसके बाद रात के 11 बजे उसे पिता खाना लेकर छत पर उसके कमरे में गए तो देखा कि उनका बेटा फंदे से लटक रहा है। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई और पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया। बता दें, पोस्टमार्टम के बाद एसएसपी आशीष भारती का कहना है कि पबजी खेलने के दौरान उसके ग्रुप के मेंबर्स लगातार मारे जा रहे थे जिससे वह काफी परेशान था और और इसलिए उसने आत्महत्या कर ली। भारती ने अन्य लोगों से भी अपने बच्चों पर नजर रखने को कहा है। साथ ही मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पीयूष के कमरे से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है जिसमें उसने मौत के लिए खुद को जिम्मेदार बताया है। उसने नोट में माता-पिता से अपने बच्चों पर किसी चीज के लिए दबाव ना बनाने की अपील भी की है। पीयूष ने नोट में लिखा है कि बच्चों पर दबाव बनाने से वे और खराब हो जाते हैं।