यूपी में लापता विधायक की तलाश में जनता ने घोषित किया 5000 का ईनाम

यूपी में लापता विधायक की तलाश में जनता ने घोषित किया 5000 का ईनाम

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में बांदा जिले की नरैनी विधानसभा में इन दिनों विधायक जी की गुमशुदगी के पोस्टर लगे हुए हैं। पोस्टर के माध्यम से खोजे जा रहे विधायक जी का पता बताने वाले को 5000 रुपए का नगद ईनाम देने की घोषणा भी की गई है। हालांकि विधायक जी के ओर से आई प्रतिक्रिया में ईनाम घोषित करने वाले क्षेत्र के लोगों को बसपा समर्थक करार दिया गया है।

मिली जानकारी के मुताबिक बांदा में सक्रिय पब्लिक एक्शन कमेटी नाम के एक सामाजिक संगठन के जिला प्रमुख गुलाब वनवासी का कहना है कि नरैनी विधानसभा के अंतर्गत जंगली इलाके में बसे गोबरी-गोड़रामपुर, बिलरियामठ, मवासी डेरा, बघोलन और गोड़ी बाबा के पुरवा में आबाद करीब साढ़े आठ सौ परिवार जिल्लत की जिंदगी जीने को मजबूर हैं। अपने विधायक से अपनी पीड़ा कहने के लिए लोग लखनऊ तक गए लेकिन विधायक राजकरन कबीर की कोई खोज खबर नहीं मिली।

{ यह भी पढ़ें:- यूपी के युवा खिलाड़ियों को राष्ट्रीय पहचान दिलाएगा मेधज स्पोर्टस क्लब }

जिसके बाद वनवासियों ने बैठक कर अपने ‘लापता’ विधायक की खोज कर लाने वाले को पांच हजार नगद इनाम देने की घोषणा की है। वनवासियों को सबसे बड़ी पीड़ा इस बात की है कि उनके विधायक चुनाव जीतने के बाद से अब तक एक भी बार वनवासियों के बीच नहीं गए। पूरी गर्मी बीत गई लेकिन विधायक जी ने अपने वादे के मुताबिक इस इलाके में एक हैंडपंप तक लगवाने की सुध नहीं ली।

वहीं एक रिपोर्ट के मुताबिक विधायक राजकरन कबीर के प्रतिनिधि एन.के. ब्रम्हचारी ने विधायक का पक्ष रखते हुए कहा कि वनवासी क्षेत्र के लोग बसपा समर्थक है उन्होंने भाजपा को वोट नहीं दिया इसलिए विधायक जी वहां नहीं जा सकते।

{ यह भी पढ़ें:- सावधान: यहां भी लग सकता 'सांस का आपातकाल', दिल्ली की राह पर 'अमेठी' }

Loading...