पल्सर नहीं मिलने से नाराज दूल्हे को दुल्हन ने दिया तलाक, पहनाई जूतों की माला

रांची। दहेज हमारे समाज में फैली ऐसी संक्रामक बीमारी है जिसने न जाने कितनी जिन्दगियां बर्बाद कर डालीं। इस बीमारी की बुराई को समझने के बावजूद इंसान मौका आने पर इसकी गिरफ्त में आ ही जाता है। कभी कभी इस बीमारी का संक्रमण इस हद तक हो जाता है कि उसके गंभीर परिणाम सामने आते हैं। ऐसे ही संक्रमण का एक मामला झारखंड के रांची में सामने आया है। जहां दूल्हे ने दहेज में अपनी पसंद की पल्सर बाइक न मिलने पर निकाह करने से पहले बखेड़ा खड़ा कर दिया। जिसके बाद लड़की ने दूल्हें को न सिर्फ तलाक दिया, बल्कि अपने घर वालों की मदद से दूल्हे और उसके भाई को गंजा कर उनके गले में जूतों की माला पहनाकर उन्हें उनकी हैसियत बताने में देर नहीं लगाई।




मिली जानकारी के मुताबिक रांची के सिकदरी निवासी मूनताज अंसारी का निकाह पास के ही गांव चन्दवे से होना तय हुआ। दूल्हे ने लड़की वालों से पल्सर बाइक की डिमांड की थी। लड़की वालों ने लड़के की मांग को ध्यान में रखते हुए अपनी हैसियत के हिसाब से पैशन बाइक दहेज में देने के लिए खरीद ली। जब बारात दरवाजे पर पहुंची तो लड़का पसंद की बाइक न मिलने पर भड़क गया और निकाह न करने पर अड़ गया। दोनो पक्षों के लोगों के समझाने के बाद लड़के ने निकाह की रस्म तो पूरी की लेकिन बाइक के लिए अपने परिवार के साथ हुए व्यवहार से आहत दुल्हन तलाक लेने की बात कह कर पूरे विदा होने से इंकार कर दिया।




गांववालों दबाव में आकर जैसे ही तलाक हुआ वैसे ही लड़की वालों ने दूल्हे और उसके भाई के सिर मुंडवा जूतों की माला पहनाकर पूरे गांव के चक्कर लगवाए गए।