सेना और आतंकियों की मुठभेड़ में 11 लोग मरे, तीन आतंकी ढेर

jammu kashmir
सेना और आतंकियों की मुठभेड़ में 11 लोग मरे, तीन आतंकी ढेर

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में शनिवार को सेना और आतंकियों की मुठभेड़ में 11 लोग मारे गए। घाटी के हाल के इतिहास में यह एक सबसे रक्तरंजित दिन रहा है। इलाके में आतंकियों के छिपे होने की गुप्त सूचना के बाद सुरक्षा बलों ने इलाके को घेर लिया और इसके बाद सिरनू गांव में मुठभेड़ शुरू हो गई। पुलिस ने बताया कि मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए और एक जवान शहीद हो गया।

Pulwama Encounter Between Security Forces And Terrorists In Jammu And Kashmir :

मुठभेड़ के तुरंत बाद, कई नागरिक प्रदर्शनकारी सुरक्षा बलों के साथ भिड़ गए, जिसके कारण भीड़ को नियंत्रित करने के लिए सुरक्षा बलों ने गोलीबारी की और पेलेट्स दागे। मुठभेड़ स्थल पर सुरक्षाबलों और प्रदर्शनकारियों के बीच हुए संघर्ष के दौरान गोलीबारी में दो युवक घायल हो गए, जिनकी पहचान आमिर अहमद और आबिद हुसैन के रूप में हुई है।

अधिकारियों ने बताया कि अस्पताल पहुंचते ही दोनों को मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस ने कहा कि श्रीनगर के एक अस्पताल में एक और प्रदर्शनकारी की मौत हो गई, जिसके बाद इस घटना में मारे गए प्रदर्शनकारियों की संख्या बढ़कर सात हो गई। इस संघर्ष में 35 से ज्यादा प्रदर्शनकारी घायल हुए हैं। उनमें से तीन की हालत नाजुक बनी है।

प्रशासन ने पुलवामा में कर्फ्यू लगा दिया है और नागरिकों की मौत के चलते कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए उच्च सुरक्षा व्यवस्था की गई है।
पुलवामा में मोबाइल सेवाएं निलंबित कर दी गई हैं और जम्मू क्षेत्र में कश्मीर घाटी और बनिहाल शहर के बीच रेल सेवाएं रोक दी गई हैं।

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में शनिवार को सेना और आतंकियों की मुठभेड़ में 11 लोग मारे गए। घाटी के हाल के इतिहास में यह एक सबसे रक्तरंजित दिन रहा है। इलाके में आतंकियों के छिपे होने की गुप्त सूचना के बाद सुरक्षा बलों ने इलाके को घेर लिया और इसके बाद सिरनू गांव में मुठभेड़ शुरू हो गई। पुलिस ने बताया कि मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए और एक जवान शहीद हो गया।मुठभेड़ के तुरंत बाद, कई नागरिक प्रदर्शनकारी सुरक्षा बलों के साथ भिड़ गए, जिसके कारण भीड़ को नियंत्रित करने के लिए सुरक्षा बलों ने गोलीबारी की और पेलेट्स दागे। मुठभेड़ स्थल पर सुरक्षाबलों और प्रदर्शनकारियों के बीच हुए संघर्ष के दौरान गोलीबारी में दो युवक घायल हो गए, जिनकी पहचान आमिर अहमद और आबिद हुसैन के रूप में हुई है।अधिकारियों ने बताया कि अस्पताल पहुंचते ही दोनों को मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस ने कहा कि श्रीनगर के एक अस्पताल में एक और प्रदर्शनकारी की मौत हो गई, जिसके बाद इस घटना में मारे गए प्रदर्शनकारियों की संख्या बढ़कर सात हो गई। इस संघर्ष में 35 से ज्यादा प्रदर्शनकारी घायल हुए हैं। उनमें से तीन की हालत नाजुक बनी है।प्रशासन ने पुलवामा में कर्फ्यू लगा दिया है और नागरिकों की मौत के चलते कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए उच्च सुरक्षा व्यवस्था की गई है। पुलवामा में मोबाइल सेवाएं निलंबित कर दी गई हैं और जम्मू क्षेत्र में कश्मीर घाटी और बनिहाल शहर के बीच रेल सेवाएं रोक दी गई हैं।