पिता की आखिरी इच्छा पूरी करने के लिए बेटे ने की ICU में शादी

पुणे| आज के युग में श्रवण रूपी बेटा होना नामुमकिन सा है लेकिन इसका एक उदाहरण शहर के एक अस्पताल में देखने को मिला जब एक बेटे ने अपने पिता की अंतिम इच्छा के लिए आईसीयू के भीतर ही शादी कर ली। इस बात के चर्चे शहर भर में हो रहे हैं। दरअसल, पिता वेंटिलेटर पर जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रहे थे पर उनकी आखिरी इच्छा पूरी के लिए बेटे ने लड़की वालों के साथ मिलकर यह कदम उठाने का फैसला किया।




34 वर्षीय ध्यानेश एन. देव पेशे से बिजनसमैन हैं। ध्यानेश के पिता नंद कुमार देव की इच्छा थी कि वे अपनी आंखों के सामने ही अपने बेटे की शादी होते हुए देखें। दुर्भाग्य से शादी की तारीख से कुछ दिन पहले उन्हें दिल का दौरा पड़ा और उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया। दीनानाथ मंगेशकर सुपर स्पेशिऐलिटी अस्पताल में भर्ती नंदकुमार को पहले से दिल की बीमारी थी। यहां इलाज के दौरान ही उन्हें अचानक लंग इनफेक्शन की शिकायत हो गई।




बेटे ने अपने पिता की अंतिम इच्छा के लिए शादी जैसी रस्म को हॉस्पिटल में ही माना डाला जो की आज के युवाओ के लिए मिसाल है। नव विवाहित बेटे ने अपनी पत्नी के साथ पिता का आशीर्वाद लिया, जिसके 12 घंटे बाद नंद कुमार का स्वर्गवास हो गया।

Loading...