पंजाब: संकट में अमरिंदर सरकार, कांग्रेस को तोड़ AAP बना सकती है सरकार !

aap
पंजाब: संकट में अमरिंदर सरकार, कांग्रेस को तोड़ AAP बना सकती है सरकार !

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के बाद अब पंजाब में भी राजनीतिक उठापटक की आहट सुनाई दे रही है। पंजाब में आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक ने दावा किया है कि पंजाब में जल्‍द ही तख्‍तापलट हो सकता है। आप विधायक अमन अरोड़ा के मुताबिक पंजाब के कई कांग्रेसी विधायक कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ खड़े हो गए हैं।

Punjab Amarinder Government In Crisis Aap Can Make Congress Break Aap :

आप विधायक अमन अरोड़ा का कहना है कि आम आदमी पार्टी के साथ मिलकर ये तमाम नाराज विधायक पंजाब में नई सरकार बनाकर जनता से किए गए अपने वादों को पूरा कर सकते हैं। बता दें कि पिछले दिनों कांग्रेस के चार विधायकों ने आरोप लगाया था कि पंजाब पुलिस उनके फोन कॉल्स को टैप कर रही है। ये चारों नाराज विधायक मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के जिला पटियाला के विधानसभा क्षेत्रों से ही हैं। ये हैं हरदयाल सिंह कंबोज, मदन लाल जलालपुर, निर्मल सिंह शुत्राना और काका राजिंदर सिंह।  

कैप्टन के खिलाफ गुस्सा

ये सारे विधायक आरोप लगा रहे है कि अफसरशाही विधायकों पर हावी है और अफसर उनकी एक नहीं सुन रहे। इन चारों विधायकों ने ये कहकर पंजाब की राजनीति को गरमा दिया कि उनकी तरह ही करीब 40 और कांग्रेस के विधायक कैप्टन से नाराज़ चल रहे हैं। विधायक ने दावा किया है कि ये सब एकजुट हो रहे हैं।
 
बता दें कि पंजाब में मार्च 2017 में हुए चुनावों में कांग्रेस ने 117 में से 77 सीटें जीतकर सत्ता हासिल की थी। अब वहां कांग्रेस के 80, शिरोमणि अकाली दल के 14, आप के 19 विधायक हैं। पिछले महीने हुए उप-चुनाव में कांग्रेस ने जलालाबाद, फगवाड़ा और मुकेरियन जबकि शिरोमणि अकाली दल ने दखा सीट पर जीत दर्ज की थी।  

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के बाद अब पंजाब में भी राजनीतिक उठापटक की आहट सुनाई दे रही है। पंजाब में आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक ने दावा किया है कि पंजाब में जल्‍द ही तख्‍तापलट हो सकता है। आप विधायक अमन अरोड़ा के मुताबिक पंजाब के कई कांग्रेसी विधायक कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ खड़े हो गए हैं। आप विधायक अमन अरोड़ा का कहना है कि आम आदमी पार्टी के साथ मिलकर ये तमाम नाराज विधायक पंजाब में नई सरकार बनाकर जनता से किए गए अपने वादों को पूरा कर सकते हैं। बता दें कि पिछले दिनों कांग्रेस के चार विधायकों ने आरोप लगाया था कि पंजाब पुलिस उनके फोन कॉल्स को टैप कर रही है। ये चारों नाराज विधायक मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के जिला पटियाला के विधानसभा क्षेत्रों से ही हैं। ये हैं हरदयाल सिंह कंबोज, मदन लाल जलालपुर, निर्मल सिंह शुत्राना और काका राजिंदर सिंह।   कैप्टन के खिलाफ गुस्सा ये सारे विधायक आरोप लगा रहे है कि अफसरशाही विधायकों पर हावी है और अफसर उनकी एक नहीं सुन रहे। इन चारों विधायकों ने ये कहकर पंजाब की राजनीति को गरमा दिया कि उनकी तरह ही करीब 40 और कांग्रेस के विधायक कैप्टन से नाराज़ चल रहे हैं। विधायक ने दावा किया है कि ये सब एकजुट हो रहे हैं।   बता दें कि पंजाब में मार्च 2017 में हुए चुनावों में कांग्रेस ने 117 में से 77 सीटें जीतकर सत्ता हासिल की थी। अब वहां कांग्रेस के 80, शिरोमणि अकाली दल के 14, आप के 19 विधायक हैं। पिछले महीने हुए उप-चुनाव में कांग्रेस ने जलालाबाद, फगवाड़ा और मुकेरियन जबकि शिरोमणि अकाली दल ने दखा सीट पर जीत दर्ज की थी।