AAP नेता ने किया खालिस्‍तान का समर्थन, केजरीवाल पर बरसे CM कैप्‍टन

चंडीगढ़। पंजाब में एक बार फिर अलगाववाद के सुर उठे हैं और इस बार यह सुर आम आदमी पार्टी के नेता और विधायक सुखपाल सिंह खैरा ने उठाए हैं। सुखपाल सिंह खैरा ने साल 2020 में रेफरेंडम कराकर अलग देश खलिस्तान की मांग की है। जिस पर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कड़ी आपत्ति जतायी है और सुखपाल सिंह खैरा की इस मांग को लेकर आप अध्यक्ष अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है।

Punjab Cm Captain Amarinder Singh Slam Arvind Kejriwal Sukhpal Singh Khaira For Referendum Of Khalistan :

दरअसल सुखपाल खैरा ने शनिवार को ट्विट करते हुए कहा, ‘हालांकि मैं सिखों के लिए अलग देश की मांग को लेकर 2020 जनमत संग्रह का वोटर नहीं हूं, लेकिन मुझे ये कहने में ज़रा भी संकोच नहीं है कि आजादी के बाद से लगातार सिखों से भेदभाव, उनके उत्पीड़न, दरबार सहिंब पर हमले और 1984 नरसंहार के कारण से ही यह सब हुआ।’


सुखपाल सिंह खैरा के इस ट्वीट पर पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर आप अध्यक्ष अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा और केजरीवाल को संबोधित करते हुए ट्वीट किया कि मिस्टर केजरीवाल मैं आपके विपक्ष के नेता सुखपाल खैरा के रेफरेंडम 2020 वाले बयान की कड़े शब्दों में निंदा करता हूं, जिसका उद्देश्य सिर्फ पंजाब को भारतीय संघ से अलग करना है। कृप्या इस मुद्दे पर अपना स्टैंड साफ करें और अपनी पार्टी के नेता को कहें कि वह जिम्मेदारी भरा व्यवहार करें।

चंडीगढ़। पंजाब में एक बार फिर अलगाववाद के सुर उठे हैं और इस बार यह सुर आम आदमी पार्टी के नेता और विधायक सुखपाल सिंह खैरा ने उठाए हैं। सुखपाल सिंह खैरा ने साल 2020 में रेफरेंडम कराकर अलग देश खलिस्तान की मांग की है। जिस पर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कड़ी आपत्ति जतायी है और सुखपाल सिंह खैरा की इस मांग को लेकर आप अध्यक्ष अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है। दरअसल सुखपाल खैरा ने शनिवार को ट्विट करते हुए कहा, 'हालांकि मैं सिखों के लिए अलग देश की मांग को लेकर 2020 जनमत संग्रह का वोटर नहीं हूं, लेकिन मुझे ये कहने में ज़रा भी संकोच नहीं है कि आजादी के बाद से लगातार सिखों से भेदभाव, उनके उत्पीड़न, दरबार सहिंब पर हमले और 1984 नरसंहार के कारण से ही यह सब हुआ।' सुखपाल सिंह खैरा के इस ट्वीट पर पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर आप अध्यक्ष अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा और केजरीवाल को संबोधित करते हुए ट्वीट किया कि मिस्टर केजरीवाल मैं आपके विपक्ष के नेता सुखपाल खैरा के रेफरेंडम 2020 वाले बयान की कड़े शब्दों में निंदा करता हूं, जिसका उद्देश्य सिर्फ पंजाब को भारतीय संघ से अलग करना है। कृप्या इस मुद्दे पर अपना स्टैंड साफ करें और अपनी पार्टी के नेता को कहें कि वह जिम्मेदारी भरा व्यवहार करें।