1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. पंजाब:डॉक्टरों की हड़ताल से चिकित्सा सेवा ठप, वेतन आयोग की सिफारिशों के विरोध किया कामकाज बंद

पंजाब:डॉक्टरों की हड़ताल से चिकित्सा सेवा ठप, वेतन आयोग की सिफारिशों के विरोध किया कामकाज बंद

पंजाब में वेतन संबंधी मांगों को लेकर राज्य के सरकारी अस्पतालों के डॉक्टरों ने एक दिवसीय हड़ताल की जिससे महामारी के बीच पंजाब में शुक्रवार को चिकित्सा सेवाएं बुरी तरह प्रभावित हुईं।

By अनूप कुमार 
Updated Date

नई दिल्ली:पंजाब में वेतन संबंधी मांगों को लेकर राज्य के सरकारी अस्पतालों के डॉक्टरों ने एक दिवसीय हड़ताल की जिससे महामारी के बीच पंजाब में शुक्रवार को चिकित्सा सेवाएं बुरी तरह प्रभावित हुईं। नॉन प्रैक्टिसिंग अलाउएंस को मूल वेतन से अलग करने की छठे वेतन आयोग की सिफारिशों के विरोध में सरकारी अस्पतालों के डॉक्टरों ने एक दिवसीय हड़ताल की। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक हड़ताल का असर राज्य के ग्रामीण इलाकों में ज्यादा देखने को मिला। हड़ताल के कारण बाहरी रोगी विभागों (ओपीडी) में चिकित्सा सेवाएं बुरी तरह प्रभावित हुईं। हालांकि, आपातकालीन सेवाओं को हड़ताल से छूट दी गई थी।

पढ़ें :- आजादी के बाद पंजाब को मिला पहला दलित मुख्यमंत्री, कांग्रेस की चाल से विपक्ष चित
Jai Ho India App Panchang

हड़ताल का आह्वान संयुक्त पंजाब सरकार डॉक्टर्स कोऑर्डिनेशन कमेटी द्वारा किया गया है, जिसे पंजाब स्टेट वेटरनरी ऑफिसर्स एसोसिएशन, पंजाब मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन, रूरल मेडिकल ऑफिसर्स एसोसिएशन, पंजाब डेंटल मेडिकल ऑफिसर्स एसोसिएशन और पंजाब आयुर्वेद ऑफिसर्स एसोसिएशन का समर्थन प्राप्त है।

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने गुरुवार को सरकार के कर्मचारियों की शिकायतों के समाधान के लिए मंत्रियों की निगरानी समिति का गठन किया।समिति में स्थानीय शासन मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा, वित्त मंत्री मनप्रीत बादल, सामाजिक न्याय मंत्री साधु सिंह धर्मसोत, चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान मंत्री ओपी सोनी और स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिद्धू शामिल होंगे।

a

पढ़ें :- पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी सोमवार सुबह 11 बजे करेंगे शपथ ग्रहण
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...