1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. पंजाब बदलाव चाहता है, सिर्फ आम आदमी पार्टी ही उम्मीद : अरविंद केजरीवाल

पंजाब बदलाव चाहता है, सिर्फ आम आदमी पार्टी ही उम्मीद : अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि पंजाब में होने वाले आगामी चुनावों में वहां के लोगों की एकमात्र उम्मीद ‘आम आदमी पार्टी’ (आप) है।श्री केजरीवाल ने सोमवार के अपने पंजाब के दौरे को ध्यान में रख पंजाबी में ट्वीट कर कहा कि पंजाब बदलाव चाहता है। आम आदमी पार्टी ही एकमात्र उम्मीद है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि पंजाब में होने वाले आगामी चुनावों में वहां के लोगों की एकमात्र उम्मीद ‘आम आदमी पार्टी’ (आप) है। श्री केजरीवाल ने सोमवार के अपने पंजाब के दौरे को ध्यान में रख पंजाबी में ट्वीट कर कहा कि पंजाब बदलाव चाहता है। आम आदमी पार्टी ही एकमात्र उम्मीद है।

पढ़ें :- इस बार पद्म पुरस्कारों के लिए सिर्फ स्वास्थ्यकर्मियों के ही नाम भेजे जाएंगें : अरविंद केजरीवाल

बता दें कि श्री केजरीवाल इस वर्ष कल दूसरी बार पंजाब दौरे पर जायेंगे। आप संयोजक का यह दौरा बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि हाल ही में पार्टी के पूर्व नेता सुखपाल सिंह खैरा के कांग्रेस पार्टी में शामिल होने से राज्य में पार्टी को धक्का लगा है। वर्ष 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) ने अच्छा प्रदर्शन किया था और 2014 के लोकसभा चुनाव में यहां की चार लोकसभा सीटों पर जीत हासिल की थी। पंजाब में 2022 फरवरी या मार्च में विस चुनाव होने के आसार है।

अरविंद केजरीवाल ने अपने पंजाब दौरे को लेकर ट्वीट करते हुए कहा कि पंजाब बदलाव चाहता है। सिर्फ आम आदमी पार्टी ही उम्मीद है। कल अमृतसर में मिलते हैं। इसे रीट्वीट करते हुए पंजाब में आप के नेता और सांसद भगवंत मान ने लिखा- ‘आपका स्वागत है।

दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल के पंजाब दौरे के बीच चर्चा इस बात को लेकर भी है कि सोमवार को पूर्व आईजी कुंवर विजय प्रताप आम आदमी पार्टी में शामिल हो सकते हैं। कुंवर विजय प्रताप पवित्र ग्रंथ की बेअदबी मामले में जांच कर चुके हैं।

बता दें कि साल 2017 में हुए पंजाब विधानसभा चुनाव में 117 सीटों में से कांग्रेस ने 77 सीटों पर कब्‍जा दिया था जबकि आम आदमी पार्टी के खाते में 20, जबकि शिरोमणि अकाली दल में 15 सीटों पर जीत हासिल हुई थी।पिछले चुनाव में बीजेपी का प्रदर्शन बेहद खराब था। उसे मात्र 3 सीटें ही मिल सकी थीं।

पढ़ें :- दावा: CM अ​रविंद केजरीवाल के सहयोगी और ED के अधिकारी भी थे पेगासस के निशाने पर!

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...