पूर्णिमा के दिन करें ये इस खास उपाय प्रसन्न होंगी मां लक्ष्मी

पूर्णिमा के दिन करें ये इस खास उपाय प्रसन्न होंगी मां लक्ष्मी
पूर्णिमा के दिन करें ये इस खास उपाय प्रसन्न होंगी मां लक्ष्मी

लखनऊ। मार्गशीर्ष या अगहन माह को अति पवित्र महिना माना जाता है। मार्गशीर्ष माह में ही भगवान श्रीकृष्ण ने गीता का उपदेश दिया था। पुराणों में इस महीने की पूर्णिमा को भी महत्वपूर्ण और फलदायी माना गया है। इस पूर्णिमा पर स्नान, दान और भगवान विष्णु की पूजा करने का विधान है। इस दिन श्री हरि या शिव जी की उपासना अवश्य करनी चाहिए। आइये जानते हैं मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के उपाय….

Purnima Ke Din Dhan Prapti Ke Upay :

मार्गशीर्ष पूर्णिमा की पूजा विधि

  • मार्गशीर्ष पूर्णिमा के दिन व्रत एवं पूजन करने सभी सुखों की प्राप्ति होती है।
  • इस दिन भगवान विष्णु की पूजा की जाती है।
  • इस दिन मन को पवित्र करके स्नान करें और सफेद रंग के वस्त्र धारण करें।
  • इसके बाद विधि-विधान के साथ भगवान विष्णु की पूजा करें।
  • इस दिन भगवान विष्णु की पूजा करने का विधान है।
  • इस दिन सत्यनारायण की कथा सुनना और पढ़ना बहुत शुभ माना गया है।
  • इस दिन भगवान नारायण की पूजा धूप, दीप आदि से करें।
  • इसके बाद चूरमा का भोग लगाएं।
  • यह इन्हें अतिप्रिय है।
  • बाद में चूरमा को प्रसाद के रुप में बांट दें।

पूर्णिमा के दिन पीपल के वृक्ष में मां लक्ष्मी का आगमन होता है। इस दिन सुबह स्नान करने के बाद पीपल के पेड़ पर कुछ मीठा चढ़ाकर जल अर्पित करना चाहि दांप्तय जीवन में मधुरता के लिए पूर्णिमा के दिन पति-पत्नी में से किसी को चंद्रमा को अर्घ्य अवश्य देना चाहिए। पति- पत्नी साथ में भी अर्घ्य दे सकते हैं।

आर्थिक समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए पूर्णिमा के दिन चंद्रोदय के समय चन्द्रमा को कच्चे दूध में चीनी और चावल मिलाकर “ॐ स्रां स्रीं स्रौं स: चन्द्रमासे नम:” या ” ॐ ऐं क्लीं सोमाय नम:. ” मंत्र का जप करते हुए अर्ध्य देना चाहिए। ऐसा करने से धीरे धीरे आर्थिक समस्याएं खत्म हो जाती हैं।

पूर्णिमा के दिन मां लक्ष्मी की प्रतिमा पर 11 कौड़ियां चढ़ाकर उन पर हल्दी से तिलक करें। अगले दिन इन कौड़ियों को एक लाल कपड़े में बांधकर वहां रख दे जहां आप अपना धन रखते हैं। ऐसा करने से घर में कभी भी धन की कमी नहीं रहेगी।

लखनऊ। मार्गशीर्ष या अगहन माह को अति पवित्र महिना माना जाता है। मार्गशीर्ष माह में ही भगवान श्रीकृष्ण ने गीता का उपदेश दिया था। पुराणों में इस महीने की पूर्णिमा को भी महत्वपूर्ण और फलदायी माना गया है। इस पूर्णिमा पर स्नान, दान और भगवान विष्णु की पूजा करने का विधान है। इस दिन श्री हरि या शिव जी की उपासना अवश्य करनी चाहिए। आइये जानते हैं मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के उपाय.... मार्गशीर्ष पूर्णिमा की पूजा विधि
  • मार्गशीर्ष पूर्णिमा के दिन व्रत एवं पूजन करने सभी सुखों की प्राप्ति होती है।
  • इस दिन भगवान विष्णु की पूजा की जाती है।
  • इस दिन मन को पवित्र करके स्नान करें और सफेद रंग के वस्त्र धारण करें।
  • इसके बाद विधि-विधान के साथ भगवान विष्णु की पूजा करें।
  • इस दिन भगवान विष्णु की पूजा करने का विधान है।
  • इस दिन सत्यनारायण की कथा सुनना और पढ़ना बहुत शुभ माना गया है।
  • इस दिन भगवान नारायण की पूजा धूप, दीप आदि से करें।
  • इसके बाद चूरमा का भोग लगाएं।
  • यह इन्हें अतिप्रिय है।
  • बाद में चूरमा को प्रसाद के रुप में बांट दें।
पूर्णिमा के दिन पीपल के वृक्ष में मां लक्ष्मी का आगमन होता है। इस दिन सुबह स्नान करने के बाद पीपल के पेड़ पर कुछ मीठा चढ़ाकर जल अर्पित करना चाहि दांप्तय जीवन में मधुरता के लिए पूर्णिमा के दिन पति-पत्नी में से किसी को चंद्रमा को अर्घ्य अवश्य देना चाहिए। पति- पत्नी साथ में भी अर्घ्य दे सकते हैं। आर्थिक समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए पूर्णिमा के दिन चंद्रोदय के समय चन्द्रमा को कच्चे दूध में चीनी और चावल मिलाकर "ॐ स्रां स्रीं स्रौं स: चन्द्रमासे नम:" या " ॐ ऐं क्लीं सोमाय नम:. " मंत्र का जप करते हुए अर्ध्य देना चाहिए। ऐसा करने से धीरे धीरे आर्थिक समस्याएं खत्म हो जाती हैं। पूर्णिमा के दिन मां लक्ष्मी की प्रतिमा पर 11 कौड़ियां चढ़ाकर उन पर हल्दी से तिलक करें। अगले दिन इन कौड़ियों को एक लाल कपड़े में बांधकर वहां रख दे जहां आप अपना धन रखते हैं। ऐसा करने से घर में कभी भी धन की कमी नहीं रहेगी।