1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. Pushkar Singh Dhami ही होंगे उत्तराखंड के मुख्यमंत्री, 23 मार्च को दूसरी बार लेंगे शपथ

Pushkar Singh Dhami ही होंगे उत्तराखंड के मुख्यमंत्री, 23 मार्च को दूसरी बार लेंगे शपथ

उत्तराखंड के कार्यवाहक मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की दोबारा ताजपोशी का रास्ता सोमवार को साफ हो गया है। भाजपा हाईकमान ने एक बार फिर धामी के नाम पर हामी भर दी है। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भाजपा विधायक  दल की बैठक के बाद सीएम के नाम का ऐलान किया है। सूत्रों की मानें तो नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री 24 या 26 मार्च को पद व गोपनीयता की शपथ ले सकते हैं। इसके साथ ही, कैबिनेट मंत्रियों को भी शपथ दिलाई जा सकती है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

देहरादून। उत्तराखंड के कार्यवाहक मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) की दोबारा ताजपोशी का रास्ता सोमवार को साफ हो गया है। भाजपा हाईकमान ने एक बार फिर धामी के नाम पर हामी भर दी है। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भाजपा विधायक  दल की बैठक के बाद सीएम के नाम का ऐलान किया है। सूत्रों की मानें तो नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री 24 या 26 मार्च को पद व गोपनीयता की शपथ ले सकते हैं। इसके साथ ही, कैबिनेट मंत्रियों को भी शपथ दिलाई जा सकती है।

पढ़ें :- Breaking-अशोक गहलोत दिल्ली निकलने से पहले देंगे इस्तीफा? राजभवन जाने की सूचना से अटकलें तेज

बता दें कि उत्तराखंड की पांचवी विधानसभा को 11वें दिन के लंबे इंतजार के बाद आखिरकार मुख्यमंत्री मिल गया है। नई दिल्ली से सोमवार दोपहर ऑब्जर्वर मीनाक्षी लेखी के साथ पहुंचे राजनाथ सिंह ने भाजपा प्रदेश कार्यालय में सांसदों और विधायकों के बीच उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री के नाम पर चर्चा की। बैठक के बाद सिंह ने सीएम के नाम का ऐलान किया है।

बता दें कि इससे पहले, सोमवार सुबह राज्यपाल गुरमीत सिंह (Governor Gurmeet Singh) ने प्रोटेम स्पीकर बंशीधर भगत (Protem Speaker Banshidhar Bhagat) को राजभवन में पद व गोपनीयता की शपथ दिलाई थी। इसके बाद, उत्तराखंड की पांचवीं विधानसभा के लिए चुने गए विधायकों को विधानसभा में पद व गोपनीयता की शपथ दिलाई गई। 10 मार्च को मतगणना के बाद भाजपा ने 47 सीटों जीतकर प्रचंड बहुमत हासिल किया था। जबकि, कांग्रेस को 19 और निर्दलीय व बसपा को दो-दो सीटों पर ही संतुष्ट होना पड़ा था।

सीएम चेहरे को लेकर लड़ रही भाजपा को करारा झटका लगा है। जब सीएम पुष्कर सिंह धामी  (Pushkar Singh Dhami) खटीमा विधानसभा सीट (Khatima assembly seat) से चुनाव हार गए थे। उन्हें कांग्रेस के भुवन चंद्र कापड़ी ने हराया था। धामी के चुनाव हारने के बाद सीएम पद की लॉबिंग जमकर शुरू हो गई थी। आखिरकार भाजपा हाईकमान ने विधायकों पर लगाम कसते हुए लॉबिंग पर विराम लगा दिया था।

पढ़ें :- Ankita Murder Case: प्रियंका गांधी ने उत्तराखंड सरकार से पूछा- पोस्टमार्टम रिपोर्ट क्यों नहीं दे रहे? फास्टट्रैक कोर्ट में सुनवाई करने की मांग
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...