CWG 2018: तिरंगा लेकर भारतीय दल का नेतृत्व करेंगी बैडमिंटन स्टार सिंधु

CWG 2018 , बैडमिंटन स्टार सिंधु
CWG 2018: तिरंगा लेकर भारतीय दल का नेतृत्व करेंगी बैडमिंटन स्टार सिंधु

नई दिल्ली। रियो ओलंपिक सिल्वर मेडलिस्ट शटलर पीवी सिंधु गोल्डकोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स के उद्घाटन समारोह में भारतीय दल की अगुआई करेंगी। उन्हें ध्वजवाहक चुना गया है। इस बार कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 गोल्ड कोस्ट में आयोजित होने हैं।

Pv Sindhu To Be India Flag Bearer At Cwg 2018 Opening Ceremony :

शुक्रवार को भारतीय ओलिंपिक संघ (IOA) ने इस संबंध में बैठक की थी, जिसमें यह निर्णय लिया गया कि कॉमनवेल्थ खेलों में राष्ट्र ध्वज लेकर भारतीय दल का नेतृत्व यह बैडमिंटन स्टार करेंगी। बताया जाता है कि इस होड़ में मेरी कॉम और साइना नेहवाल भी शामिल थीं। आखिकार भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) ने 22 साल की सिंधु को यह मौका दिया।

2004 के एथेंस ओलिंपिक के बाद यह पहला मौका है जब किसी महिला एथलीट को किसी बड़े खेल आयोजन में ध्वजवाहक बनाया गया है। 2004 ओलिंपिक में यह जिम्मेदारी लॉन्अंग जंपर अंजू बॉबी जॉर्ज ने निभाई थी।

सिंधु को 2016 के ओलंपिक में रजत पदक जीतने के अलावा पिछले कुछ वर्षों में लगातार अच्छा प्रदर्शन का इनाम मिला है। 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स का उद्घाटन समारोह 4 अप्रैल को गोल्ड कोस्ट (ऑस्ट्रेलिया) के करारा स्टेडियम में होगा।

2010 में दिल्ली कॉमनवेल्थ खेलों के दौरान बीजिंग ओलिंपिक में गोल्ड मेडल अपने नाम करने वाले शूटर अभिनव बिंद्रा ने भारतीय दल की अगुवाई की थी। इसके बाद साल 2014 में ग्लासगो कॉमनवेल्थ खेलों के दौरान लंदन ओलिंपिक में शूटिंग में रजत पदक अपने नाम करने वाले विजय कुमार ने यह जिम्मेदारी निभाई थी।

नई दिल्ली। रियो ओलंपिक सिल्वर मेडलिस्ट शटलर पीवी सिंधु गोल्डकोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स के उद्घाटन समारोह में भारतीय दल की अगुआई करेंगी। उन्हें ध्वजवाहक चुना गया है। इस बार कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 गोल्ड कोस्ट में आयोजित होने हैं।शुक्रवार को भारतीय ओलिंपिक संघ (IOA) ने इस संबंध में बैठक की थी, जिसमें यह निर्णय लिया गया कि कॉमनवेल्थ खेलों में राष्ट्र ध्वज लेकर भारतीय दल का नेतृत्व यह बैडमिंटन स्टार करेंगी। बताया जाता है कि इस होड़ में मेरी कॉम और साइना नेहवाल भी शामिल थीं। आखिकार भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) ने 22 साल की सिंधु को यह मौका दिया।2004 के एथेंस ओलिंपिक के बाद यह पहला मौका है जब किसी महिला एथलीट को किसी बड़े खेल आयोजन में ध्वजवाहक बनाया गया है। 2004 ओलिंपिक में यह जिम्मेदारी लॉन्अंग जंपर अंजू बॉबी जॉर्ज ने निभाई थी।सिंधु को 2016 के ओलंपिक में रजत पदक जीतने के अलावा पिछले कुछ वर्षों में लगातार अच्छा प्रदर्शन का इनाम मिला है। 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स का उद्घाटन समारोह 4 अप्रैल को गोल्ड कोस्ट (ऑस्ट्रेलिया) के करारा स्टेडियम में होगा।2010 में दिल्ली कॉमनवेल्थ खेलों के दौरान बीजिंग ओलिंपिक में गोल्ड मेडल अपने नाम करने वाले शूटर अभिनव बिंद्रा ने भारतीय दल की अगुवाई की थी। इसके बाद साल 2014 में ग्लासगो कॉमनवेल्थ खेलों के दौरान लंदन ओलिंपिक में शूटिंग में रजत पदक अपने नाम करने वाले विजय कुमार ने यह जिम्मेदारी निभाई थी।