लोग समझ रहे थे तमाशा और अजगर ने तोड़ दी सपेरे की गर्दन

python strangled throat sanke charmer
लोग समझ रहे थे तमाशा और अजगर ने तोड़ दी सपेरे की गर्दन

मऊ। उत्तर प्रदेश के मऊ जिले में एक अजीबोगरीब मामला देखने को मिला। यहां एक सपेरा अजगर लेकर पहुंचा और तमाशा दिखाने लगा। वो अजगर को गले में डालकर करतब दिखा रहा था, तभी अजगर ने उसकी गर्दन को जकड़ लिया। सपेरा गश खाकर वही गिर पड़ा। वो तड़पता रहा और लोग इसे तमाशा समझकर तालिया बजाते रहे। जब काफी देर तक ऐसा होता रहा तब लोगो को अनहोनी की आशंका हुई। लोगो ने सपेरे के मुंह पर पानी डालकर उसे होश में लाने का प्रयास किया लेकिन वो होश में नहीं आया।

Python Strangled Throat Sanke Charmer Mau :

स्थानीय लोगो ने उसे किसी तरह अजगर के चंगुल से छुड़ाया और इसकी जानकार 108 एम्बुलेंस को दी। मौके पर पहुंची एम्बुलेंस ने गंभीर रूप से घायल सपेरे को जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां से बाद में उसके परिजन उसे लेकर वाराणसी के एक निजी अस्पताल चले गए।

मऊ जनपद के मुहम्मदाबाद कोतवाली बाजार क्षेत्र में अजगर को गले में डालकर तमाशा दिखाना एक सपेरे पर भारी पड़ गया। उसने अजगर को गले में लपेट तो लिया, लेकिन फिर उसे हटा नहीं सका। सपेरा मदद के लिए भी किसी को पुकार नहीं सका। लोग यही समझते रहे कि वो तमाशा दिखा रहा है। कुछ देर बाद वो अचेत होकर जमीन पर गिर पड़ा। तब लोगों को माजरा समझ आया। लोगों ने पानी डालकर उसकी चेतना वापस लाने की कोशिश की, लेकिन सफल नहीं हुए।

लोगों ने सबसे पहले अजगर को उसकी गर्दन से दूर किया और 108 एम्बुलेंस को बुलाया। सपेरे को फौरन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया, वहां से जिला हॉस्पिटल लाया गया। हालांकि उसकी हालत गंभीर देखते हुए वाराणसी के एक निजी हॉस्पिटल में रेफर किया गया है। मेडिकल सुपरिटेंडेंट वृजकुमार के मुताबिक, सपेरे की गंभीर हालत को देखते हुए वाराणसी के सरकारी हॉस्पिटल रेफर किया गया था, लेकिन अब उसका प्राइवेट हॉस्पिटल में इलाज हो रहा है। फिलहाल डाक्टरों ने उसकी हालत खतरे से बहार बताई है।

मऊ। उत्तर प्रदेश के मऊ जिले में एक अजीबोगरीब मामला देखने को मिला। यहां एक सपेरा अजगर लेकर पहुंचा और तमाशा दिखाने लगा। वो अजगर को गले में डालकर करतब दिखा रहा था, तभी अजगर ने उसकी गर्दन को जकड़ लिया। सपेरा गश खाकर वही गिर पड़ा। वो तड़पता रहा और लोग इसे तमाशा समझकर तालिया बजाते रहे। जब काफी देर तक ऐसा होता रहा तब लोगो को अनहोनी की आशंका हुई। लोगो ने सपेरे के मुंह पर पानी डालकर उसे होश में लाने का प्रयास किया लेकिन वो होश में नहीं आया।स्थानीय लोगो ने उसे किसी तरह अजगर के चंगुल से छुड़ाया और इसकी जानकार 108 एम्बुलेंस को दी। मौके पर पहुंची एम्बुलेंस ने गंभीर रूप से घायल सपेरे को जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां से बाद में उसके परिजन उसे लेकर वाराणसी के एक निजी अस्पताल चले गए।मऊ जनपद के मुहम्मदाबाद कोतवाली बाजार क्षेत्र में अजगर को गले में डालकर तमाशा दिखाना एक सपेरे पर भारी पड़ गया। उसने अजगर को गले में लपेट तो लिया, लेकिन फिर उसे हटा नहीं सका। सपेरा मदद के लिए भी किसी को पुकार नहीं सका। लोग यही समझते रहे कि वो तमाशा दिखा रहा है। कुछ देर बाद वो अचेत होकर जमीन पर गिर पड़ा। तब लोगों को माजरा समझ आया। लोगों ने पानी डालकर उसकी चेतना वापस लाने की कोशिश की, लेकिन सफल नहीं हुए।लोगों ने सबसे पहले अजगर को उसकी गर्दन से दूर किया और 108 एम्बुलेंस को बुलाया। सपेरे को फौरन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया, वहां से जिला हॉस्पिटल लाया गया। हालांकि उसकी हालत गंभीर देखते हुए वाराणसी के एक निजी हॉस्पिटल में रेफर किया गया है। मेडिकल सुपरिटेंडेंट वृजकुमार के मुताबिक, सपेरे की गंभीर हालत को देखते हुए वाराणसी के सरकारी हॉस्पिटल रेफर किया गया था, लेकिन अब उसका प्राइवेट हॉस्पिटल में इलाज हो रहा है। फिलहाल डाक्टरों ने उसकी हालत खतरे से बहार बताई है।