दिल्ली के पॉश इलाके में बदमाशों ने लूटा युवती का पर्स, खुद को बताया पीएम मोदी की भतीजी

damyanti
दिल्ली की कानून-व्यवस्था पर उठे सवाल, पीएम मोदी की भतीजी का पर्स छीनकर भागे बदमाश

नई दिल्ली। दिल्ली की कानून व्यवस्था एक बार फिर सवालों के घेरे में है। बदमाशों ने यहां पर एक युवती का पर्स लूट लिया। युवती खुद को पीएम मोदी की भतीजी बता रही है। वहीं, वारदात के बाद बदमाश आसानी से भाग निकले। पर्स में कैश, कई अहम दस्तावेज समेत अन्य सामान थे। यह घटना दिल्ली के सिविल लाइन्स इलाके में हुई है।

Questions Raised On Delhis Law And Order Purse Robbed From Prime Minister Narendra Modis Niece :

बताया जा रहा है कि, पीड़ित युवती दमयंती बेन मोदी खुद को पीएम मोदी की भतीजी बता रहीं हैं। उनके मुताबिक, आज सुबह वह अमृतसर से दिल्ली लौटीं थीं। इनका कमरा सिविल लाइंस इलाके के गुजरात भवन में बुक था। वह परिवार के साथ आटो से गुजरात समाज भवन पहुंचीं। गेट पर पहुंचकर वो आटो से उतर रहीं थीं ​तभी स्कूटी सवार बदमाशों ने उनका पर्स छीनकर फरार हो गए।

दमयंती बेन ने बताया कि, पर्स में करीब 56 हजार रुपये, दो मोबाइल फोन, कई अहम दस्तावेज समेत अन्य सामान था। उन्होंने कहा कि, उन्हें शाम को अहमदाबाद की फ्लाइट पकड़नी है लेकिन उनके सभी दस्तावेज गायब हो गए हैं। उन्होंने कहा कि, इसकी शिकायत उन्होंने पुलिस से की है। वहीं, इस वारदात के बाद पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बता दें कि, जहां पर वारदात हुई है वह वीवीआईपी इलाके में आता है। जिस जगह इस वारदात को अंजाम दिया गया वहां से चंद कदमों की दूरी पर दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर का घर है। दिल्ली के मुख्यमंत्री का आवास भी महज थोड़ी दूरी पर ही है। ऐसे में हुई यह वारदात कानून व्यवस्था पर सवाल उठा रही है।

नई दिल्ली। दिल्ली की कानून व्यवस्था एक बार फिर सवालों के घेरे में है। बदमाशों ने यहां पर एक युवती का पर्स लूट लिया। युवती खुद को पीएम मोदी की भतीजी बता रही है। वहीं, वारदात के बाद बदमाश आसानी से भाग निकले। पर्स में कैश, कई अहम दस्तावेज समेत अन्य सामान थे। यह घटना दिल्ली के सिविल लाइन्स इलाके में हुई है। बताया जा रहा है कि, पीड़ित युवती दमयंती बेन मोदी खुद को पीएम मोदी की भतीजी बता रहीं हैं। उनके मुताबिक, आज सुबह वह अमृतसर से दिल्ली लौटीं थीं। इनका कमरा सिविल लाइंस इलाके के गुजरात भवन में बुक था। वह परिवार के साथ आटो से गुजरात समाज भवन पहुंचीं। गेट पर पहुंचकर वो आटो से उतर रहीं थीं ​तभी स्कूटी सवार बदमाशों ने उनका पर्स छीनकर फरार हो गए। दमयंती बेन ने बताया कि, पर्स में करीब 56 हजार रुपये, दो मोबाइल फोन, कई अहम दस्तावेज समेत अन्य सामान था। उन्होंने कहा कि, उन्हें शाम को अहमदाबाद की फ्लाइट पकड़नी है लेकिन उनके सभी दस्तावेज गायब हो गए हैं। उन्होंने कहा कि, इसकी शिकायत उन्होंने पुलिस से की है। वहीं, इस वारदात के बाद पुलिस मामले की जांच कर रही है। बता दें कि, जहां पर वारदात हुई है वह वीवीआईपी इलाके में आता है। जिस जगह इस वारदात को अंजाम दिया गया वहां से चंद कदमों की दूरी पर दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर का घर है। दिल्ली के मुख्यमंत्री का आवास भी महज थोड़ी दूरी पर ही है। ऐसे में हुई यह वारदात कानून व्यवस्था पर सवाल उठा रही है।