थानेदार की कुर्सी पर विराजान हुई राधे मां, हाथ जोड़े खड़े रहे SHO साहब

नई दिल्ली। पूरे देश में फर्जी बाबाओं और स्वयंभू संतों को लेकर विवाद बढ़ गया है। विवादित लिस्ट में शामिल खुद को देवी का अवतार बताने वाली राधे मां की एक ताजा तस्वीर सामने आई है। तस्वीर में राधे में दिल्ली के एक थाने में थानेदार की कुर्सी पर विराजमान नजर आयीं और खुद थानेदार राधे मां के सामने हाथ जोड़े खड़े नजर आए। इस तस्वीर को एक न्यूज़ एजेंसी ने साझा किया है। बताया जा रहा है कि तस्वीर नवरात्रि के दौरान की है। मामला उच्च अधिकारियों के संज्ञान में आने के बाद जांच के आदेश दे दिये गए हैं।

मामला दिल्ली के विवेक विहार थाने का है। बताया जा रहा है जैसे ही राधे मां का थाने में प्रवेश हुआ, सभी पुलिसकर्मी उन्‍हें देखकर दंग रहे गए। थाने के अंदर घुसते ही उन्‍होंने एसएचओ संजय शर्मा के कमरे की ओर रुख किया। एसएचओ के कमरे में घुसते ही राधे मां के सम्‍मान में संजय शर्मा ने अपनी कुर्सी छोड़ दी। एसएचओ ने राधे मां का जोरदार स्‍वागत किया। राधे मां ने उनके स्‍वागत में अपनी चुनरी उनके कंधों पर डाल दी।

{ यह भी पढ़ें:- दिल्ली: दोस्त के घर में फ्रिज में मिला लापता युवक का शव }

जब इस बार में थाने के पुलिसकर्मी से सवाल किया गया, तो वो सभी कन्‍नी काट गए। वहीं एसएचओ संजय शर्मा भी इस मामले पर बोलने के लिए बचते नजर आ रहे हैं।

बताते चलें हाल ही में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने राधे मां समेत 14 लोगों को फर्जी संत घोषित किया है। राधे मां कई विवादों से घिरी हैं। राधे मां की भाभी बलविंदर कौर की हत्या के मामले में उनके भाई और पिता को सजा भी हो चुकी है। बलविंदर कौर के भाई जगतार सिंह ने गांव नानोनंगल में पिछले साल आरोप लगाया था कि उनकी बहन की हत्या में राधे मां भी शामिल थी। जगतार ने कहा था कि राधे मां के दो भाई और पिता ने उनकी बहन की हत्या की थी, जिन्होंने 10-10 साल की सजा काटी।

{ यह भी पढ़ें:- मासूमों की कब्रगाह बन गयी कार, नौ घंटे लॉक रहे बच्चे }