1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. कृषि कानून को लेकर राहुल का केंद्र पर हमला, कहा-देश के भविष्य के लिए इन कानूनों का विरोध करना पड़ेगा

कृषि कानून को लेकर राहुल का केंद्र पर हमला, कहा-देश के भविष्य के लिए इन कानूनों का विरोध करना पड़ेगा

Rahul Attacks Center On Agriculture Law Says These Laws Will Have To Be Opposed For The Future Of The Country

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कृषि कानूनों को लेकर एक बार फिर केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोला है। राहुल ने कहा कि देश के भविष्य के लिए इन कानूनों का विरोध करना पड़ेगा। उन्होंने किसानों के साथ डिजिटल संवाद के दौरान यह दावा भी किया कि नोटबंदी और जीएसटी की तरह इन कानूनों का लक्ष्य भी किसानों और मजदूरों को कमजोर करना है।

पढ़ें :- बिहार चुनाव: सुरजेवाला ने नीतीश कुमार को बताया 'अपराध कुमार', कहा-पूरा बिहार अपरध के ​बीहड़ में तब्दील हुआ

इस डिजिटल संवाद में पंजाब, हरियाणा, महाराष्ट्र, बिहार और कई अन्य प्रदेशों के किसानों ने इन कानूनों के संदर्थ में अपनी बात रखी। राहुल गांधी ने दावा किया, ”नोटबंदी के समय कहा गया कि यह कालेधन के खिलाफ लड़ाई है। यह सब झूठ था। इसका लक्ष्य किसान-मजदूर को कमजोर करना था। इसके बाद जीएसटी आई तो भी यही लक्ष्य था।”

उन्होंने कहा, ”कोरोना संकट के समय किसानों, मजदूरों और गरीबों को पैसे नहीं दिए गए। सिर्फ कुछ सबसे बड़े उद्योगपतियों को पैसे दिए गए। कोरोना के समय इन उद्योगपतियों की आमदनी बढ़ती गई और आपकी (किसान) आमदनी घटती गई। इसके बावजूद पैसे उन्हें दिए गए।” राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि इन तीन कानूनों और नोटबंदी एवं जीएसटी में कोई ज्यादा फर्क नहीं है। फर्क सिर्फ इतना है कि पहले आपके पैर में कुल्हाड़ी मारी गई और अब सीने में छुरा मार दिया गया है।

 

पढ़ें :- पंजाब में दशहरे पर जला पीएम मोदी का पुुतला, नड्डा बोले-यह सब राहुल गांधी के इशारे पर हुआ

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...