1. हिन्दी समाचार
  2. राहुल द्रविड़ 12 नवंबर को BCCI एथिक्स अधिकारी के सामने पेश होंगे

राहुल द्रविड़ 12 नवंबर को BCCI एथिक्स अधिकारी के सामने पेश होंगे

Rahul Dravid Bcci Ethics Officer Conflict Of Interest Notice Bcci Ethics Officer

By रवि तिवारी 
Updated Date

मुंबई। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के एथिक्स ऑफिसर डीके जैन ने हितों के टकराव मामले में राहुल द्रविड़ को 12 नवंबर को बयान दर्ज कराने के लिए कहा है। एक बोर्ड अधिकारी ने कहा कि द्रविड़ को राजधानी में जैन के सामने पेश होना है। द्रविड़ अभी राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के प्रमुख हैं। मध्य प्रदेश क्रिकेट संघ के आजीवन सदस्य संजीव गुप्ता की शिकायत पर एथिक्स ऑफिसर ने द्रविड़ को कॉनफ्लिक्ट ऑफ इंटरेस्ट के सम्बंध में नोटिस दिया था।

पढ़ें :- ट्रैक्टर रैली के दौरान अगर छूटी है आपकी ट्रेन तो रेलवे ने किया बड़ा ऐलान, जानिए...

द्रविड़ नेशनल क्रिकेट एकेडमी (एनसीए) के प्रमुख होने के साथ-साथ इंडिया सीमेंट्स समूह के उपाध्यक्ष भी हैं। इंडिया सीमेंट ही इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की टीम चेन्नई सुपरकिंग्स की मालिक भी है। वे एनसीए के प्रमुख बनने से पहले इंडिया-ए और इंडिया अंडर-19 टीम के कोच थे।

द्रविड़ ने कहा था- इंडिया सीमेंट्स से अवैतनिक छुट्टी ली है

बीसीसीआई के पदाधिकारी ने बताया की , ‘जैन ने बुधवार रात द्रविड़ को पत्र लिखकर उन्हें नई दिल्ली में 12 नवंबर को सुनवाई के लिए पेश होने को कहा है। इस दौरान गुप्ता का पक्ष भी सुना जाएगा।’ द्रविड़ इस मामले में पहले ही अपना पक्ष रखते हुए कहा था कि उन्होंने इंडिया सीमेंट्स से अवैतनिक छुट्टी ली है। चेन्नई सुपरकिंग्स से उनका कोई लेना-देना नहीं है। बीसीसीआई के संविधान के अनुसार, कोई भी व्यक्ति एक समय में एक से अधिक पद पर नहीं रह सकता।  

क्या है पूरा मामला?

पढ़ें :- होटल में एंट्री लेने से पहले भारतीय खिलाड़ियों को करना होगा ये जरूरी काम

एक पत्र में इंडिया सीमेंट्स के सीनियर जनरल मैनेजर जी. विजयन ने साफ-साफ लिखा है कि द्रविड़ ने बीसीसीआई और एनसीए प्रमुख के तौर पर अपनी प्रतिबद्धताओं को देखते हुए दो साल का अवकाश ले रखा है।

बीसीसीआई का कामकाज देखने के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति के अध्यक्ष विनोद राय ने द्रविड़ का बचाव करते हुए कहा था कि द्रविड़ का अवकाश पर रहना उन्हें किसी प्रकार के कॉनफ्लिक्ट ऑफ इंटरेस्ट से दूर करता है।

बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने भी द्रविड़ पर लगे कॉनफ्लिक्ट ऑफ इंटरेस्ट के आरोपों को लेकर काफी नाराजगी जाहिर की थी। गांगुली ने कहा था कि कॉनफ्लिक्ट ऑफ इंटरेस्ट भारतीय क्रिकेट में एक नया फैशन बन गया है. यह खबरों में रहना का तरीका है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...