दो बार अरेस्ट हुए राहुल गांधी, बोले- शहीद के परिवार को अरेस्ट कर रहे हैं, शर्म नहीं आती

नई दिल्ली। वन रैंक वन पेंशन के मुद्दे को लेकर पूर्व फौजी की खुदकुशी को लेकर राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में जमकर हंगामा हुआ। इस मुद्दे पर राम मनोहर लोहिया अस्पताल पहुंचे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को पुलिस ने अस्पताल के अंदर नहीं जाने दिया। पुलिस राहुल गांधी को हिरासत में लेकर थाने गयी। इस दौरान राहुल व पुलिस अफसरों के बीच तीखी झड़प भी हुई। इस दौरान राहुल ने कहा, “हिंदुस्तान में आप एक शहीद के परिवार के लोगों को अरेस्ट कर रहे हैं। शर्म नहीं आती?”




पुलिस ने राहुल गांधी को पहली बार करीब तीन बजे आरएमएल हॉस्पिटल के बाहर से हिरासत में लिया और चार बजे उन्हे छोड़ दिया गया। वहीं दूसरी बार राहुल को तब हिरासत में लिया गया, जब वे पूर्व फौजी रामकिशन के परिवार से मिलने पहुंचे थे। शाम करीब 6 बजे कनॉट प्लेस से राहुल को दोबारा हिरासत में लिया गया। राहुल के साथ-साथ गुलाम नबी आजाद और ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी पुलिस ने हिरासत में लिया है।




दिल्ली पुलिस के अफसर और एसीबी चीफ एमएल मीणा ने कहा कि हॉस्पिटल धरने की जगह नहीं है। यहां किसी को प्रदर्शन की इजाजत नहीं दी जा सकती। यहां मरीज इलाज के लिए आते हैं। आप नेता यहां आकर डिस्टर्ब कर रहे थे, इसलिए उन्हें डिटेन किया गया।