1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. राहुल गांधी ने इशारों-इशारों में किया तल्ख ट्वीट, लिखा-सच, सवालों व कार्टून वह सब से है डरता

राहुल गांधी ने इशारों-इशारों में किया तल्ख ट्वीट, लिखा-सच, सवालों व कार्टून वह सब से है डरता

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी व पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार डीजल-पेट्रोल के दाम बढ़ाकर देश को लूट रही है। कहा कि ढहती अर्थव्यवस्था, आसमान छूती महंगाई और रिकॉर्ड स्तर पर पहुंची बेरोजगारी को रोकने के लिए कदम नहीं उठा रही है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Rahul Gandhi Did A Strong Tweet In Gestures Wrote Truth He Is Afraid Of Questions And Cartoons

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी व पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार डीजल-पेट्रोल के दाम बढ़ाकर देश को लूट रही है। कहा कि ढहती अर्थव्यवस्था, आसमान छूती महंगाई और रिकॉर्ड स्तर पर पहुंची बेरोजगारी को रोकने के लिए कदम नहीं उठा रही है।

पढ़ें :- ममता ने पूछा- केंद्र सरकार ने आखिर जम्मू कश्मीर से पूर्ण राज्य का दर्जा क्यूं छीना?

पढ़ें :- जम्मू-कश्मीर कांग्रेस के अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर, बोले- 370 पर पीएम मोदी नहीं करेंगे बात

कांग्रेस नेताओं ने ‘भारत को लूट रही है भाजपा’ अभियान के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी निशाना साधा है। कहा कि वह सच बोलने, सवाल पूछने और आलोचना से डरते हैं। उनके नेतृत्व वाली सरकार में हो रही लूट से देश मुश्किल हालात में पहुंच गया है लेकिन इसकी उन्हें कोई परवाह नहीं है।

श्री गांधी ने ट्वीट किया कि सच से, सवालों से, कार्टून से- वह सब से डरता है। एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि देश की सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) धराशाई हो रही है। बेरोजगारी चरम पर है और ईंधन की कीमतें आसमान छू रही है। उन्होंने कहा कि अब और कितने तरीके से भाजपा देश को लूटेगी।

श्रीमती वाड्रा ने कहा कि महामारी के दौरान मोदी सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर 2.74 लाख करोड़ रुपए के टैक्स वसूले। इस पैसे से क्या मिल सकता था-पूरे भारत को वैक्सीन (67000 करोड़), 718 जिलों में ऑक्सीजन प्लांट, 29 राज्यों में एम्स अस्पताल और 25 करोड़ गरीबों को 6000 रुपए की मदद, मगर मिला कुछ भी नहीं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X