पीएम मोदी के भ्रष्टाचार का गुब्बारा फोड़ने को बेताब राहुल गांधी

नई दिल्ली। जोरदार हंगामें के बाद बुधवार को स्थगित हुई लोकसभा की कार्रवाई के बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मीडिया से बातचीत के दौरान एकबार फिर अपने तेवर दिखाते हुए कहा कि उनके पास प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा किए गए भ्रष्टाचार के पुख्ता सुबूत है। उन्हें बोलने का मौका नहीं दिया जा रहा है। वह लोकसभा में बोलना चाहते हैं। अगर उन्हें बोलने का मौका मिला तो गुब्बारा फट जाएगा। यह पहला मौका नहीं है जब संसद में जारी शीत कालीन सत्र के दौरान राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनकी सरकार को अपनी बयानबाजी से घेरने का प्रयास किया हो। इससे पहले भी वह नोटबंदी को देश का सबसे बड़ा घोटाला करार देते हुए कहा था कि उनके बोलने से भूकंप आ जाएगा।




मीडिया से बातचीत के दौरान जब उनसे सवाल किया गया कि अगर उन्हें लोकसभा में बोलने का मौका नहीं मिल रहा तो वह मीडिया के सामने बोल सकते है। जिसके जवाब में उन्होंने कहा कि देश की जनता, अमेठी की जनता ने उन्हें चुनकर लोकसभा भेजा है। वह लोकसभा में ही बोलेंगे।

बुधवार को लोकसभा की कार्रवाई के दैरान बीजेपी नेताओं ने हाल ही में एक समाचार चैनल द्वारा दिखाए गए कांग्रेस, एनसीपी, बसपा और सपा के कुछ नेताओं के पुराने नोट बदलने के स्टिंग आॅपरेशन का मुद्दा उठाया था। जिसके बाद विपक्ष ने सत्तारूढ़ दल पर विपक्ष की आवाज दबाने के आरोप लगाते हुए हंगामेबाजी करना शुरू कर दी। इस दौरान विपक्ष ने हाल ही में सामने आए केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजूजू के आॅडियो टेप को लेकर भी नारेबाजी की जिसके बाद सदन की कार्रवाई को गुरुवार तक के लिए स्थगित कर दिया गया।



सत्तारूढ़ दल पर लगाया न बोलने देने का आरोप

राहुल ने कहां एक महीने से पूरा विपक्ष, सभी दल लोकसभा में चर्चा करना चाहते हैं। यहां हर पार्टी के प्रतिनिधि हैं। सरकार और पीएम मोदी जी नहीं चाहते कि हम लोकसभा में अपनी बात रखें। हमने स्पीकर से कहा कि अपोजिशन को बोलने दें।हमारा भी राजनीतिक हक बनता है कि हमें बोलने के लिए मंजूरी नहीं दी जा रही है। सरकार से अनुरोध करूंगा कि पूरे विपक्ष को बोलने का मौका दे।




टीएमसी ने कहा- सरकार को इतना घमंड क्यों है?

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के सांसद सुदीप बनर्जी ने कहा,”सरकार इतना घमंड क्यों दिखा रही है? अपोजिशन को पहले बोलने का मौका दिया जाए। पहले तो सरकार तैयार थी। लेकिन फिर कहने लगे कि राहुल गांधी के बोलने के बाद लोकसभा नहीं चलेगी। बीजेपी कहने लगी कि चर्चा में पहले वे बोलेंगे। ये क्या है?” अगर सरकार हमें पहले बोलने का मौका देती है तो हम कल भी सदन चलाने के लिए तैयार हैं।




बीजेपी ने राहुल गांधी को मूर्खता बंद करने को कहा

राहुल गांधी की बयानबाजी के जवाब में बीजेपी नेता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा, “राहुल और उनकी पार्टी के सांसदों ने संसद की कार्यवाही रोक रखी है। वे राज्यसभा और लोकसभा कहीं भी डिबेट नहीं होने दे रहे।” वह लोगों को मूर्ख बनाना बंद करें। वे सिर्फ मीडिया में छाये रहने के लिए ऐसा बोल रहे हैं। वह एक प्राइमरी स्कूल चाइल्ड की तरह एक लाइन सीखकर बोल रहे हैं। बार-बार गोलपोस्ट चेंज कर रहे हैं।

Loading...