गणतंत्र दिवस पर चौथी पंक्ति में मिला राहुल गांधी को स्थान

गणतंत्र दिवस, राहुल गांधी
गणतंत्र दिवस पर चौथी पंक्ति में मिला राहुल गांधी को स्थान
नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस कार्यक्रम को देखने के लिए सीट पाने को लेकर राजनीति शुरू हो गई है। कांग्रेस ने पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को चौथी पंक्ति में स्थान दिए जाने को लेकर मोदी सरकार पर सवाल खड़े किए हैं। कांग्रेस ने केन्द्र सरकार पर राहुल गांधी की जानबूझकर उपेक्षा करने का अरोप लगाया है। कांग्रेस का कहना है जब भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को पहली पंक्ति में स्थान दिया गया है तो मुख्य विपक्षी नेता के रूप में राहुल गांधी…

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस कार्यक्रम को देखने के लिए सीट पाने को लेकर राजनीति शुरू हो गई है। कांग्रेस ने पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को चौथी पंक्ति में स्थान दिए जाने को लेकर मोदी सरकार पर सवाल खड़े किए हैं। कांग्रेस ने केन्द्र सरकार पर राहुल गांधी की जानबूझकर उपेक्षा करने का अरोप लगाया है। कांग्रेस का कहना है जब भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को पहली पंक्ति में स्थान दिया गया है तो मुख्य विपक्षी नेता के रूप में राहुल गांधी को चौथी पंक्ति में स्थान क्यों दिया गया है। एक परंपरा के मुताबिक विपक्ष के नेता को पहली पंक्ति में स्थान दिया जाता रहा है।

कांग्रेस का अरोप है कि सत्तारूढ़ भाजपा ओछी राजनीति पर उतर आई है। विपक्ष के नेता को पहली पंक्ति में स्थान मिलता रहा है, लेकिन इस बार आसियान देशों के राष्ट्राध्यक्षों को मुख्य अतिथि बनाया गया है। आसियान देशों के सामने कांग्रेस और कांग्रेस के नेताओं को नीचा दिखाने के लिए साजिशन राहुल गांधी और सोनिया गांधी के लिए चौथी पंक्ति में स्थान आरक्षित किया गया है।

{ यह भी पढ़ें:- कर्नाटक विधानसभा चुनाव : येदियुरप्पा ने पर्चा भरा }

आपको बता दें कि 1950 से भारत में गणतंत्र दिवस पर किसी दूसरे देश के राष्ट्राध्यक्ष को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया जाता रहा है। यह पहला मौका है जब गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि के रूप में आसियान के 10 राष्ट्राध्यक्ष शिरकत कर रहे हैं। भारत गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि का चुनाव अपनी विदेशनीति और अंतरराष्ट्रीय कूटनीति के तहत करता आया है।

{ यह भी पढ़ें:- भविष्य की नहीं अतीत की बात करते हैं हमारे प्रधानमंत्री: राहुल गांधी }

Loading...