राहुल गांधी विदेश दौरे के लिए हुए रवाना, कांग्रेस ने बताया आध्यात्मिक दौरा

rahul gandhi
राहुल गांधी विदेश दौरे के लिए हुए रवाना, कांग्रेस ने बताया आध्यात्मिक दौरा

नई दिल्ली। अर्थव्यवस्था और बेरोजगारी के मुद्दे पर कांग्रेस बीजेपी सरकार को घेरने की कोशिश में जुटी है। ऐसे में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष व वायनाड से सांसद राहुल गांधी फिर विदेश दौरे पर रवाना हो गए हैं। चर्चा है कि वह एक सप्ताह वहां पर रहेंगे, जिसके बाद भारत लौटेंगे। वहीं, कांग्रेस सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन की तैयारी में जुटी है। ऐसे में उनके विदेश दौरे को लेकर कई सवाल उठने लगे हैं।

Rahul Gandhi Left For Foreign Tour Congress Said Spiritual Tour :

कांग्रेस एक से आठ नवंबर के बीच 35 प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए सरकार को घेरने की कोशिश करेगी। देश की अर्थव्यवस्था और बेरोजगारी को लेकर कांग्रेस पांच से 15 नवंबर के बीच देशव्यापाी विरोध प्रदर्शन करेगी। ऐसे में राहुल गांधी की विदेश यात्रा पर सवाल उठाए जा रहे थे। जिसे लेकर कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने सफाई दी है।

सुरजेवाला ने कहा, ‘राहु्ल गांधी पहले भी समय-समय पर आध्यात्मिक दौरे पर जाते रहे हैं। वह वर्तमान में वही हैं। कांग्रेस का एक से आठ नवंबर के बीच 35 प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए सरकार को घेरने की योजना को पूरी तरह से उनके दिशा-निर्देशों और परामर्श पर तैयार किया गया है।’ बता दें कि, इससे पहले भी हरियाणा और महाराष्ट्र चुनाव से पहले भी वह विदेश यात्रा पर गए थे, जिसको लेकर कई सवाल उठे थे।

नई दिल्ली। अर्थव्यवस्था और बेरोजगारी के मुद्दे पर कांग्रेस बीजेपी सरकार को घेरने की कोशिश में जुटी है। ऐसे में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष व वायनाड से सांसद राहुल गांधी फिर विदेश दौरे पर रवाना हो गए हैं। चर्चा है कि वह एक सप्ताह वहां पर रहेंगे, जिसके बाद भारत लौटेंगे। वहीं, कांग्रेस सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन की तैयारी में जुटी है। ऐसे में उनके विदेश दौरे को लेकर कई सवाल उठने लगे हैं। कांग्रेस एक से आठ नवंबर के बीच 35 प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए सरकार को घेरने की कोशिश करेगी। देश की अर्थव्यवस्था और बेरोजगारी को लेकर कांग्रेस पांच से 15 नवंबर के बीच देशव्यापाी विरोध प्रदर्शन करेगी। ऐसे में राहुल गांधी की विदेश यात्रा पर सवाल उठाए जा रहे थे। जिसे लेकर कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने सफाई दी है। सुरजेवाला ने कहा, 'राहु्ल गांधी पहले भी समय-समय पर आध्यात्मिक दौरे पर जाते रहे हैं। वह वर्तमान में वही हैं। कांग्रेस का एक से आठ नवंबर के बीच 35 प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए सरकार को घेरने की योजना को पूरी तरह से उनके दिशा-निर्देशों और परामर्श पर तैयार किया गया है।' बता दें कि, इससे पहले भी हरियाणा और महाराष्ट्र चुनाव से पहले भी वह विदेश यात्रा पर गए थे, जिसको लेकर कई सवाल उठे थे।