भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर राहुल गांधी ने एक फिर मोदी सरकार को घेरा

rahul gandhi
भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर राहुल गांधी ने एक फिर मोदी सरकार पर बोला हमला

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच तनाव चल रहा है। इसको लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी कई बार मोदी सरकार पर हमला बोल चुके हैं। वहीं, इस बीच एक बार फिर राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधा है। राहुल ने सरकार से पूछा है कि जब सब कुछ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नियंत्रण में था तो चीन ने भारत की जमीन कैसे ले ली?

Rahul Gandhi Once Again Attacked Modi Government Over Indo China Border Dispute :

राहुल गांधी ने एक न्यूज रिपोर्ट को साझा करते हुए आरोप लगाया है कि एलएसी पर गलवान में सैनिक हटाए जाने के मुद्दे पर सरकार मीडिया को दिग्भ्रमित कर रही है। भारत अभी भी नुकसान की स्थिति में है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा है कि ‘ऐसा क्या हुआ कि मोदी जी के शासन में चीन ने भारत माता की पवित्र जमीन को छीन लिया?’

बता दें कि इससे पहले भी राहुल गांधी भारत और चीन के बीच जारी सीमा विवाद को लेकर लगातार केंद्र सरकार पर हमला करते रहे हैं। सात जुलाई को उन्होंने पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में चीनी सेना के पीछे हटने और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की चीन के विदेश मंत्री वांग यी के साथ हुई बातचीत को लेकर तीन सवाल पूछे थे।

 

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच तनाव चल रहा है। इसको लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी कई बार मोदी सरकार पर हमला बोल चुके हैं। वहीं, इस बीच एक बार फिर राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधा है। राहुल ने सरकार से पूछा है कि जब सब कुछ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नियंत्रण में था तो चीन ने भारत की जमीन कैसे ले ली? राहुल गांधी ने एक न्यूज रिपोर्ट को साझा करते हुए आरोप लगाया है कि एलएसी पर गलवान में सैनिक हटाए जाने के मुद्दे पर सरकार मीडिया को दिग्भ्रमित कर रही है। भारत अभी भी नुकसान की स्थिति में है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा है कि 'ऐसा क्या हुआ कि मोदी जी के शासन में चीन ने भारत माता की पवित्र जमीन को छीन लिया?' बता दें कि इससे पहले भी राहुल गांधी भारत और चीन के बीच जारी सीमा विवाद को लेकर लगातार केंद्र सरकार पर हमला करते रहे हैं। सात जुलाई को उन्होंने पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में चीनी सेना के पीछे हटने और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की चीन के विदेश मंत्री वांग यी के साथ हुई बातचीत को लेकर तीन सवाल पूछे थे।