अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड के दौरे पर पहुंचे राहुल गांधी, बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री देने की अपील

rahul gandhi
अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड के दौरे पर पहुंचे राहुल गांधी, बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री देने की अपील

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और वायनाड से सांसद राहुल गांधी अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड के दौरे पर हैं। वहां पर बाढ़ से मची तबाही के बीच लोग राहत शिविरों में मौजूद हैं। ऐसे में राहुल गांधी मदद करने के लिए वहां पहुंचे हैं। वह कैथापोयिल में स्थित एक रात शिवर में पहुंचे, जहां उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि, ‘आपका सांसद होने के नाते मैंने मुख्यमंत्री को फोन किया और उन्हें जल्दी से जल्दी आपकी सहायता करने का अनुरोध किया। मैंने प्रधानमंत्री को भी फोन किया और उन्हें यहां हुई त्रासदी के बारे में बताया।

Rahul Gandhi Reached Wayanad :

उन्हें बताया कि हमें केंद्र की सहायता की जरूरत है।’ इसके साथ ही राहुल गांधी ने राहत शिविर में मौजूद लोगों को राहत सामग्री बांटी। इससे पहले राहुल गांधी ने अपील की कि वे उनके संसदीय क्षेत्र वायनाड में बाढ़ प्रभावित लोगों को राहत सामग्री मुहैया कराएं। राहुल गांधी ने अपने फेसबुक पर लिखते हुए अपील की है कि, ‘मेरा संसदीय क्षेत्र वायनाड बाढ़ से तबाह हो गया है।

हजारों लोग बेघर हो गए हैं और उन्हें राहत शिविरों में पहुंचाया गया है। उन्होंने लिखा, हमें तत्काल पानी की बोतलों, चटाई, कंबल, अधो वस्त्र, धोती, नाइटगाउन, बच्चों के कपड़े, चप्पल, सैनेटरी नैपकिन, साबुन, टूथब्रश, टूथपेस्ट, डेटॉल, सर्फ, ब्लीचिंग पाउडर और क्लोरीन की जरूरत है।

उन्होंने लोगों से बिस्कुट, चीनी, मूंग, दाल, चना, नारियल तेल, नारियल, सब्जी, करी पाउडर, ब्रेड और बच्चों का खाना देने की भी अपील की है। राहुल गांधी ने लोगों से राहत सामग्री मलप्पुरम जिले में बनाए गए केंद्रों में भेजने को कहा है।

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और वायनाड से सांसद राहुल गांधी अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड के दौरे पर हैं। वहां पर बाढ़ से मची तबाही के बीच लोग राहत शिविरों में मौजूद हैं। ऐसे में राहुल गांधी मदद करने के लिए वहां पहुंचे हैं। वह कैथापोयिल में स्थित एक रात शिवर में पहुंचे, जहां उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि, 'आपका सांसद होने के नाते मैंने मुख्यमंत्री को फोन किया और उन्हें जल्दी से जल्दी आपकी सहायता करने का अनुरोध किया। मैंने प्रधानमंत्री को भी फोन किया और उन्हें यहां हुई त्रासदी के बारे में बताया। उन्हें बताया कि हमें केंद्र की सहायता की जरूरत है।' इसके साथ ही राहुल गांधी ने राहत शिविर में मौजूद लोगों को राहत सामग्री बांटी। इससे पहले राहुल गांधी ने अपील की कि वे उनके संसदीय क्षेत्र वायनाड में बाढ़ प्रभावित लोगों को राहत सामग्री मुहैया कराएं। राहुल गांधी ने अपने फेसबुक पर लिखते हुए अपील की है कि, 'मेरा संसदीय क्षेत्र वायनाड बाढ़ से तबाह हो गया है। हजारों लोग बेघर हो गए हैं और उन्हें राहत शिविरों में पहुंचाया गया है। उन्होंने लिखा, हमें तत्काल पानी की बोतलों, चटाई, कंबल, अधो वस्त्र, धोती, नाइटगाउन, बच्चों के कपड़े, चप्पल, सैनेटरी नैपकिन, साबुन, टूथब्रश, टूथपेस्ट, डेटॉल, सर्फ, ब्लीचिंग पाउडर और क्लोरीन की जरूरत है। उन्होंने लोगों से बिस्कुट, चीनी, मूंग, दाल, चना, नारियल तेल, नारियल, सब्जी, करी पाउडर, ब्रेड और बच्चों का खाना देने की भी अपील की है। राहुल गांधी ने लोगों से राहत सामग्री मलप्पुरम जिले में बनाए गए केंद्रों में भेजने को कहा है।