1. हिन्दी समाचार
  2. नागरिकता संशोधन बिल पर राहुल गांधी बोले- यह भारतीय संविधान पर हमला है, प्रियंका ने भी जताया विरोध

नागरिकता संशोधन बिल पर राहुल गांधी बोले- यह भारतीय संविधान पर हमला है, प्रियंका ने भी जताया विरोध

Rahul Gandhi Said On Citizenship Amendment Bill This Is An Attack On Indian Constitution Priyanka Also Expressed Opposition

By बलराम सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 को लेकर करारा हमला बोला है। राहुल गांधी ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 भारतीय संविधान पर हमला है। अगर कोई इसका समर्थन कर रहा है तो वह हमारे देश की बुनियाद को नष्ट करने की कोशिश कर रहा है। बता दें कि सोमवार को लगभग 12 घंटे तक चली बहस के बाद यह बिल लोकसभा में पास हो गया है। लोकसभा में तो सरकार ने इस विधेयक को पास करा लिया, लेकिन राज्‍यसभा में इस विधेयक का पास होना उतना आसान नहीं होगा। हालांकि सत्‍तापक्ष का दावा है कि लोकसभा की तरह राज्‍यसभा में भी इसे आसानी से पास करा लिया जाएगा।

पढ़ें :- जाने आखिर क्यों करोड़ो की कीमत होने के बावजूद भी कोई इन घरो को एक रूपये में भी नहीं खरीदना चाहता

राहुल गांधी के अलावा कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने भी ट्वीट विरोध जताया। प्रियंका गांधी ने अपने ट्वीट में कहा कि बीती रात लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल पारित होने के साथ कट्टरता और संकीर्ण सोच वाले अलगाव की पुष्टि हुई है। उन्होंने कहा कि हमारा संविधान, हमारी नागरिकता एक मजबूत और एकजुट भारत के सपने से हम सभी जुड़े हुए हैं। प्रियंका गांधी ने कहा कि सरकार के उस एजेंडे के खिलाफ लड़ेंगे जो हमारे संविधान को खत्म कर रहा है।

पढ़ें :- 99 % लोगो को नहीं पता होगा ट्रेन के नीले और लाल रंग के डिब्बों में क्या होता है फर्क, सवाल का जवाब पढ़ कर हिल जाएगा आपका दिमाग

नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 के मुताबिक पड़ोसी देश पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में धार्मिक उत्पीड़न के कारण 31 दिसम्बर 2014 तक भारत आए हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई समुदाय के लोगों को अवैध शरणार्थी नहीं माना जाएगा बल्कि उन्हें भारतीय नागरिकता दी जाएगी। यह विधेयक 2014 और 2019 के लोकसभा चुनावों में भाजपा का चुनावी वादा था।

पढ़ें :- जाने आखिर इतने पाप करने के बाद भी दुर्योधन को स्वर्ग क्यों मिला, वजह जान कर रह जायेंगे हैरान

भाजपा नीत राजग सरकार ने अपने पूर्ववर्ती कार्यकाल में इस विधेयक को लोकसभा में पेश किया था और वहां पारित करा लिया था। लेकिन पूर्वोत्तर राज्यों में प्रदर्शन की आशंका से उसने इसे राज्यसभा में पेश नहीं किया। पिछली लोकसभा के भंग होने के बाद विधेयक की समय सीमा भी खत्म हो गयी थी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...