राहुल गांधी ने कहा-डियर ‘मालिक’ जी, बताएं मैं कब कश्मीर आ सकता हूं?

rahul gandhi
राहुल गांधी ने कहा-डियर 'मालिक' जी, बताएं मैं कब कश्मीर आ सकता हूं?

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर मसले पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर राज्यपाल मलिक की ट्वीट का जवाब दिया है। राहुल ने राज्यपाल मलिक को ‘मालिक’ का संबोधन देते हुए कहा कि मैं जम्मू—कश्मीर आने का न्योता स्वीकार कर रहा हूं। मैं वहां लोगों से आकर मिलना चाहता हूं, आप बताएं कब आ सकता हूं।

Rahul Gandhi Said When Can I Come To Kashmir :

वहीं, इससे पहले राज्यपाल ने कहा था कि, वह विमान भेजेंगे ताकि राहुल गांधी आकर घाटी का दौरा कर यहां की जमीनी हकीकत को जान सकें। वहीं, मंगलवार को राहुल गांधी ने कहा था कि, राज्यपाल का न्योता स्वीकार है और वह विपक्षी नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ वहां जाऐंगे लेकिन हमें विमान की जरूरत नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि, कृपया हमें यात्रा करने और लोगों से मिलने की स्वतंत्रता दें।

इसके अलावा मुख्यधारा के नेताओं और वहां तैनात हमारे सैनिकों से मिलने की हमारी स्वतंत्रता सुनिश्चित करें। गौरतलब है कि, जम्मू—कश्मीर से धारा 370 हाटए जाने के बाद से कांग्रेस सरकार पर हमलावार है। कांग्रेस का आरोप है कि सरकार के इस फैसले के बाद वहां के लोग काफी परेशान हैं और वहां का जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया है।

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर मसले पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर राज्यपाल मलिक की ट्वीट का जवाब दिया है। राहुल ने राज्यपाल मलिक को 'मालिक' का संबोधन देते हुए कहा कि मैं जम्मू—कश्मीर आने का न्योता स्वीकार कर रहा हूं। मैं वहां लोगों से आकर मिलना चाहता हूं, आप बताएं कब आ सकता हूं। वहीं, इससे पहले राज्यपाल ने कहा था कि, वह विमान भेजेंगे ताकि राहुल गांधी आकर घाटी का दौरा कर यहां की जमीनी हकीकत को जान सकें। वहीं, मंगलवार को राहुल गांधी ने कहा था कि, राज्यपाल का न्योता स्वीकार है और वह विपक्षी नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ वहां जाऐंगे लेकिन हमें विमान की जरूरत नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि, कृपया हमें यात्रा करने और लोगों से मिलने की स्वतंत्रता दें। इसके अलावा मुख्यधारा के नेताओं और वहां तैनात हमारे सैनिकों से मिलने की हमारी स्वतंत्रता सुनिश्चित करें। गौरतलब है कि, जम्मू—कश्मीर से धारा 370 हाटए जाने के बाद से कांग्रेस सरकार पर हमलावार है। कांग्रेस का आरोप है कि सरकार के इस फैसले के बाद वहां के लोग काफी परेशान हैं और वहां का जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया है।