नोटबंदी के यज्ञ में दी जा रही गरीबों, किसानों और मजदूरों की बलि: राहुल गांधी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नोटबंदी को आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और कांग्रेस उपाध्य्क्ष राहुल गांधी शुरुआत से ही विरोध कर रहे हैं। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने नोटबंदी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक बार फिर हमला बोला है। कांग्रेस के 132वें स्थापना दिवस पर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए राहुल ने प्रधानमंत्री पर तीखा हमला बोला। उन्होंने कहा कि सिर्फ 50 परिवारों को फायदा पहुंचाने के लिए नोटबंदी लागू की गई। उन्होंने बैंक खातों से पैसे निकालने की लिमिट तय किए जाने की आलोचना की।




कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि जनता का पैसा है, किस आधार पर मोदीजी ने 24 हजार रुपये की लिमिट लगाई है। उन्होंने आरोप लगाया कि यह सब कुछ लोगों से पैसे खींचने और कुछ चुनिंदा लोगों में बांटने के लिए किया गया है। उन्होंने मोदी सरकार पर डर पैदा करने का भी आरोप लगाया। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री अपने ऊपर उठ रहे सवालों का जवाब देने से बच रहे हैं।




राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने 8 नवंबर को भ्रष्टाचार और काले धन के खिलाफ यज्ञ का जिक्र किया था। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि यज्ञ में किसी न किसी की बलि दी जाती है और यज्ञ किसी न किसी के फायदे के लिए किए जाते हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि नोटबंदी के यज्ञ में गरीबों, किसानों और मजदूरों की बलि दी जा रही है। यह यज्ञ सिर्फ 50 परिवारों के लिए है।