अमेठी दौरे पर 10 जुलाई को आयेंगे राहुल गांधी, चुनाव हारने के बाद है पहला दौरा

rahul gandhi
अमेठी दौरे पर 10 जुलाई को आयेंगे राहुल गांधी, चुनाव हारने के बाद है पहला दौरा

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में अमेठी से चुनाव हारने के बाद राहुल गांधी 10 जुलाई को पहली बार दौरे पर यहां आ रहे हैं। वह कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे और नई रणनीति तैयार करेंगे। 15 वर्षों में वह पहली बार अमेठी के सासंद और कांग्रेस अध्यक्ष नहीं हैं। लिहाजा वह एक सांसद और कांग्रेस नेता के तौर पर वहां पहुंचेंगे। अमेठी से राहुल गांधी लगातर तीन बार सांसद थे।

Rahul Gandhi To Visit Amethi On July 10 :

अमेठी और रायबरेली कांग्रेस का गढ़ माना जाता था लेकिन 2019 लोकसभा चुनाव में अमेठी से राहुल गांधी चुनाव हार गए। वहीं बीजेपी प्रत्याशी स्मृति ईरानी यहां से चुनाव जीतकर संसद पहुंची। चुनाव हारने के लगभग डेढ़ महीने बाद राहुल गांधी को एक बार फिर अमेठी की याद आई है। राहुल गांधी के इस अमेठी दौरे की तैयारी भी शुरू कर दी गई है। वहीं, लखनऊ में सेवादल की अहम बैठक के दौरान नेताओं ने संगठन को मजबूत करने पर जोर दिया। इसके साथ ही राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने की सिफारिश की।

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव ​में मिली करारी हार के बाद राहुल गांधी ने हार की जिम्मेदारी ली थी, जिसके बाद उन्होंन अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। राहुल गांधी के समर्थन में कांग्रेस में इस्तीफों का दौर जारी है। कांग्रेस कार्यकर्ता राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने की मांग पर अड़े हैं। वहीं राहुल गांधी ने स्पष्ट कर दिया है कि वह अब कांग्रेस अध्यक्ष नहीं रहेंगे।

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में अमेठी से चुनाव हारने के बाद राहुल गांधी 10 जुलाई को पहली बार दौरे पर यहां आ रहे हैं। वह कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे और नई रणनीति तैयार करेंगे। 15 वर्षों में वह पहली बार अमेठी के सासंद और कांग्रेस अध्यक्ष नहीं हैं। लिहाजा वह एक सांसद और कांग्रेस नेता के तौर पर वहां पहुंचेंगे। अमेठी से राहुल गांधी लगातर तीन बार सांसद थे। अमेठी और रायबरेली कांग्रेस का गढ़ माना जाता था लेकिन 2019 लोकसभा चुनाव में अमेठी से राहुल गांधी चुनाव हार गए। वहीं बीजेपी प्रत्याशी स्मृति ईरानी यहां से चुनाव जीतकर संसद पहुंची। चुनाव हारने के लगभग डेढ़ महीने बाद राहुल गांधी को एक बार फिर अमेठी की याद आई है। राहुल गांधी के इस अमेठी दौरे की तैयारी भी शुरू कर दी गई है। वहीं, लखनऊ में सेवादल की अहम बैठक के दौरान नेताओं ने संगठन को मजबूत करने पर जोर दिया। इसके साथ ही राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने की सिफारिश की। गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव ​में मिली करारी हार के बाद राहुल गांधी ने हार की जिम्मेदारी ली थी, जिसके बाद उन्होंन अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। राहुल गांधी के समर्थन में कांग्रेस में इस्तीफों का दौर जारी है। कांग्रेस कार्यकर्ता राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने की मांग पर अड़े हैं। वहीं राहुल गांधी ने स्पष्ट कर दिया है कि वह अब कांग्रेस अध्यक्ष नहीं रहेंगे।