राहुल गांधी ने इस तस्वीर को ट्वीट कर लिखा- कोरोना वायरस को हराना है, भूल जाएं जाति-धर्म

Rahul Gandhi tweeted
राहुल गांधी ने इस तस्वीर को ट्वीट कर लिखा- कोरोना वायरस को हराना है, भूल जाएं जाति-धर्म

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस का संकट गहराता चला जा रहा है, बीते 24 घंटो में भारत के अन्दर 704 नये संक्रमित मामले सामने आये है, अब संख्या 4281 पंहुच गयी है। ऐसे में सभी राजनीतिक पार्टियां देश की जनता से घरों में रहने की अपील कर रही हैं और लगातार उन्हे जागरूक करने का काम कर रही है।

Rahul Gandhi Tweeted This Picture And Wrote Corona Virus Has To Be Defeated Forget Caste And Religion :

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को अपने ट्वीटर हैंडल पर एक तस्वीर पोस्ट करते हुए कहा कि कोरोना वायरस जैसी महामारी को हराने के लिए इसकी चेन को तोड़ना जरूरी है, ताकि ये फैल न पाए। राहुल ने कहा कि इसके लिए हमें धर्म, जाति और वर्ग आधारित मतभेदों को भुलाकर एकजुट होने की आवश्यकता है। उन्होंने यह भी कहा कि देश एकजुट होकर इस महामारी को पराजित करेगा।

राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘कोरोना संकट भारत के लिए एक ऐसा मौका है जिसमें लोग अपने धर्म, जाति एवं वर्ग के मतभेदों को पीछे छोड़कर एकजुट हों और इस खतरनाक वायरस को पराजित करें।” उन्होंने कहा, ‘ करुणा, संवेदना और त्याग इस सोच की बुनियाद हैं. हम साथ मिलकर इस लड़ाई को जीतेंगे।”

बता दें कि रविवार को राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा था कि कोरोना वायरस महामारी से निपट रहे कई स्वास्थ्य कर्मी सुरक्षा उपकरणों की कमी के चलते निरंतर अपनी जान जोखिम में डालने को मजबूर हैं। एनडीएमसी के दक्षिण दिल्ली स्थित चरक पालिका अस्पताल के एक सफाई कर्मी की कोरोना वायरस की जांच में संक्रमण की पुष्टि और उसके संपर्क में आये 30 अन्य कर्मियों को क्‍वारंटाइन में रखे जाने के बाद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की यह टिप्पणी आई है। राहुल ने यह भी कहा कि लोगों को यह नहीं भूलना चाहिए कि डॉक्टर, नर्स और सफाई कर्मियों के पास सुरक्षा उपकरण नहीं हैं।

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस का संकट गहराता चला जा रहा है, बीते 24 घंटो में भारत के अन्दर 704 नये संक्रमित मामले सामने आये है, अब संख्या 4281 पंहुच गयी है। ऐसे में सभी राजनीतिक पार्टियां देश की जनता से घरों में रहने की अपील कर रही हैं और लगातार उन्हे जागरूक करने का काम कर रही है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को अपने ट्वीटर हैंडल पर एक तस्वीर पोस्ट करते हुए कहा कि कोरोना वायरस जैसी महामारी को हराने के लिए इसकी चेन को तोड़ना जरूरी है, ताकि ये फैल न पाए। राहुल ने कहा कि इसके लिए हमें धर्म, जाति और वर्ग आधारित मतभेदों को भुलाकर एकजुट होने की आवश्यकता है। उन्होंने यह भी कहा कि देश एकजुट होकर इस महामारी को पराजित करेगा। राहुल गांधी ने ट्वीट किया, 'कोरोना संकट भारत के लिए एक ऐसा मौका है जिसमें लोग अपने धर्म, जाति एवं वर्ग के मतभेदों को पीछे छोड़कर एकजुट हों और इस खतरनाक वायरस को पराजित करें।" उन्होंने कहा, ' करुणा, संवेदना और त्याग इस सोच की बुनियाद हैं. हम साथ मिलकर इस लड़ाई को जीतेंगे।" बता दें कि रविवार को राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा था कि कोरोना वायरस महामारी से निपट रहे कई स्वास्थ्य कर्मी सुरक्षा उपकरणों की कमी के चलते निरंतर अपनी जान जोखिम में डालने को मजबूर हैं। एनडीएमसी के दक्षिण दिल्ली स्थित चरक पालिका अस्पताल के एक सफाई कर्मी की कोरोना वायरस की जांच में संक्रमण की पुष्टि और उसके संपर्क में आये 30 अन्य कर्मियों को क्‍वारंटाइन में रखे जाने के बाद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की यह टिप्पणी आई है। राहुल ने यह भी कहा कि लोगों को यह नहीं भूलना चाहिए कि डॉक्टर, नर्स और सफाई कर्मियों के पास सुरक्षा उपकरण नहीं हैं।