महाकाल दर्शन के लिए पहुंचे ‘शिवभक्त’ राहुल, भाजपा ने कहा- क्या गोत्र है आपका?

rahul-gandhi-mahakaal
लोकसभा चुनाव: विधानसभा की तर्ज पर ‘सॉफ्ट हिन्दुत्व’ को अपनाएगी कांग्रेस, ये है रणनीति

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मध्य प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए अपनी तैयारी शुरू कर दी हैं। राहुल गांधी ने सोमवार को मालवा बेल्ट के इंदौर-उज्जैन से प्रचार अभियान शुरू कर दिया है। इस दौरान राहुल गांधी उज्जैन के महाकाल मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचे। राहुल की ‘शिवभक्ति’ पर भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने तंज कसा है। संबित ने कहा, “उज्जैन जा रहे राहुल गांधी से हम पूछना चाहते हैं कि आप जेनऊ धारी हैं? आप कैसे जेनऊ धारी हैं? क्या गोत्र है आपका?”

Rahul Gandhi Visit Mahakal Temple :

राहुल ने महाकालेश्वर मंदिर के दर्शन के साथ ही सत्तारूढ़ भाजपा की मजबूत पकड़ वाले मालवा-निमाड़ अंचल में अपने दो दिवसीय चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत कर दी है। इस दौरान राहुल उज्जैन के साथ ही झाबुआ, इंदौर, धार, खरगोन और महू में भी चुनावी कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। बता दें कि बीते दिनों चुनाव प्रचार के दौरान राहुल भाजपा शासित राज्यों में कई मंदिरों में दर्शन के लिए पहुंचे थे। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राहुल को पोस्टर के माध्यम से शिवभक्त बताया था।

बताते चलें कि गांधी परिवार की महाकाल दर्शन में गहरी आस्था रही है। यह 12 ज्योतिर्लिंग में से एक हैं और इसे मध्य प्रदेश की राजनीति में भी अहम माना जाता है। प्रत्येक राजनीतिक यात्रा हो या फिर अभियान, यहीं पर दर्शन के साथ ही शुरू होते हैं। राहुल के साथ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मौजूद थे। राहुल इससे पहले 5 अक्टूबर 2010 में महाकाल मंदिर में दर्शन के लिए आए थे।

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मध्य प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए अपनी तैयारी शुरू कर दी हैं। राहुल गांधी ने सोमवार को मालवा बेल्ट के इंदौर-उज्जैन से प्रचार अभियान शुरू कर दिया है। इस दौरान राहुल गांधी उज्जैन के महाकाल मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचे। राहुल की 'शिवभक्ति' पर भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने तंज कसा है। संबित ने कहा, "उज्जैन जा रहे राहुल गांधी से हम पूछना चाहते हैं कि आप जेनऊ धारी हैं? आप कैसे जेनऊ धारी हैं? क्या गोत्र है आपका?" राहुल ने महाकालेश्वर मंदिर के दर्शन के साथ ही सत्तारूढ़ भाजपा की मजबूत पकड़ वाले मालवा-निमाड़ अंचल में अपने दो दिवसीय चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत कर दी है। इस दौरान राहुल उज्जैन के साथ ही झाबुआ, इंदौर, धार, खरगोन और महू में भी चुनावी कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। बता दें कि बीते दिनों चुनाव प्रचार के दौरान राहुल भाजपा शासित राज्यों में कई मंदिरों में दर्शन के लिए पहुंचे थे। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राहुल को पोस्टर के माध्यम से शिवभक्त बताया था। बताते चलें कि गांधी परिवार की महाकाल दर्शन में गहरी आस्था रही है। यह 12 ज्योतिर्लिंग में से एक हैं और इसे मध्य प्रदेश की राजनीति में भी अहम माना जाता है। प्रत्येक राजनीतिक यात्रा हो या फिर अभियान, यहीं पर दर्शन के साथ ही शुरू होते हैं। राहुल के साथ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मौजूद थे। राहुल इससे पहले 5 अक्टूबर 2010 में महाकाल मंदिर में दर्शन के लिए आए थे।