राइट टू प्राइवेसी पर राहुल गांधी ने साधा सरकार पर निशाना, बताया फांसीवादी ताकतों को झटका

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने निजता के अधिकार (राइट टू प्राइवेसी) पर बड़ा फैसला दिया है। 9 जजों की बैंच ने इसपर अपना फैसला सुनाते हुए कहा कि निजता का अधिकार मौलिक अधिकार है। जिसके बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कोर्ट के इस फैसले का जोरदार स्वागत करते हुए केंद्र की बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है। राहुल का मानना है कि कोर्ट का यह फैसला फांसीवादी ताकतों के लिए झटका साबित हुआ है।

{ यह भी पढ़ें:- मतदान केन्द्र से निकले पीएम मोदी को विदाई बनी रोड़ शो, कांग्रेस ने बताया आचार संहिता का उल्लंघन }


राहुल ने आगे कहा कि निगरानी के जरिए बीजेपी की दमनकारी विचारधारा के खिलाफ यह अस्वीकृति की आवाज है। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला कांस्टीट्यूशन के आर्टिकल-141 के राइट टू प्राइवेसी के तहत कानून माना जाएगा। कोर्ट ने राइट टू प्राइवेसी को मौलिक अधिकार माना है जिसके बाद अब बेंच यह फैसला करेगी कि आधार कार्ड के विभिन्न योजनाओं से जोड़ा जाए या नहीं। आधार कार्ड के संबंध में मामला 5 जजों की आधार बेंच के पास भेजा है।

{ यह भी पढ़ें:- संसद पर हमले की 16वीं बरसी: श्रद्धांजलि सभा में पीएम मोदी और विपक्ष के नेता रहे मौजूद }

Loading...