सचिन पायलट का नाम लिए बिना राहुल गांधी बोले-जो जाना चाहता है जा सकता है 

rahul gandhi
राहुल गांधी ने केंद्र पर साधा निशाना, कहा-कोविड, जीडीपी, चीन पर बीजेपी ने झूठ को दिया संस्थागत रूप

नई दिल्ली। राजस्थान में सियासी उल्टफेर के बीच राहुल गांधी का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कहा है कि यदि कोई पार्टी से जाना चाहता है, तो वह जा सकता है। राहुल गांधी ने यह टिप्पणी उस समय की है, जब एक दिन पहले राजस्थान संकट पर पार्टी ने सचिन पायलट और उनके करीबी मंत्रियों के खिलाफ कार्रवाई की थी।

Rahul Gandhi Who Wants To Go Can Be Called Without Naming Sachin Pilot :

न्यूज एजेंसी के सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एनएसयूआई की बैठक में कहा कि अगर कोई पार्टी छोड़ना चाहता है तो वह छोड़ देगा। इससे आप जैसे युवा नेताओं के लिए दरवाजे खुलते हैं। हालांकि, अपनी इस टिप्पणी में राहुल ने सचिन पायलट समेत किसी नेता का नाम नहीं लिया।

बता दें कि, राजस्थान में सियासी उल्टफेर जारी है। कांग्रेस ने विधायक दल की बैठक में न आने के बाद सचिन पायलट को डिप्टी सीएम और प्रदेश अध्यक्ष के पद से हटा दिया था। सचिन के साथ-साथ उनके करीबी दो मंत्रियों को भी मंत्रिमंडल से बाहर कर दिया गया था।

पायलट को लेकर अटकलें लगाई जा रही थीं, कि वे बीजेपी का दामन थाम सकते हैं। हालांकि, पायलट ने बुधवार सुबह बीजेपी में शामिल होने की सभी अटकलों को सिरे से खारिज करते हुए कहा था कि वह बीजेपी में नहीं जाएंगे। उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर कई आरोप भी लगाए हैं। इन सभी के बीच कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी अविनाश पांडे ने कहा कि यदि सचिन पायलट माफी मांग लेते हैं, तो उनके लिए पार्टी के दरवाजे बंद नहीं हुए हैं। वह वापस आ सकते हैं।

 

नई दिल्ली। राजस्थान में सियासी उल्टफेर के बीच राहुल गांधी का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कहा है कि यदि कोई पार्टी से जाना चाहता है, तो वह जा सकता है। राहुल गांधी ने यह टिप्पणी उस समय की है, जब एक दिन पहले राजस्थान संकट पर पार्टी ने सचिन पायलट और उनके करीबी मंत्रियों के खिलाफ कार्रवाई की थी। न्यूज एजेंसी के सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एनएसयूआई की बैठक में कहा कि अगर कोई पार्टी छोड़ना चाहता है तो वह छोड़ देगा। इससे आप जैसे युवा नेताओं के लिए दरवाजे खुलते हैं। हालांकि, अपनी इस टिप्पणी में राहुल ने सचिन पायलट समेत किसी नेता का नाम नहीं लिया। बता दें कि, राजस्थान में सियासी उल्टफेर जारी है। कांग्रेस ने विधायक दल की बैठक में न आने के बाद सचिन पायलट को डिप्टी सीएम और प्रदेश अध्यक्ष के पद से हटा दिया था। सचिन के साथ-साथ उनके करीबी दो मंत्रियों को भी मंत्रिमंडल से बाहर कर दिया गया था। पायलट को लेकर अटकलें लगाई जा रही थीं, कि वे बीजेपी का दामन थाम सकते हैं। हालांकि, पायलट ने बुधवार सुबह बीजेपी में शामिल होने की सभी अटकलों को सिरे से खारिज करते हुए कहा था कि वह बीजेपी में नहीं जाएंगे। उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर कई आरोप भी लगाए हैं। इन सभी के बीच कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी अविनाश पांडे ने कहा कि यदि सचिन पायलट माफी मांग लेते हैं, तो उनके लिए पार्टी के दरवाजे बंद नहीं हुए हैं। वह वापस आ सकते हैं।