राहुल का अमेठी दौरा कल, प्रशासन ने ली सुरक्षा की ज़िम्मेदारी

लखनऊ। तीन दिन से चल रही उठा-पटक के बाद अब अमेठी के जिला प्रशासन ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के अमेठी दौरे को हरी झंडी दे दी है। इसके साथ ही जिला प्रशासन ने एक लेटर जारी कर इस बात का खंडन किया है, उसने राहुल गांधी के दौरे को लेकर कोई रोक लगाई है। प्रशासन की तरफ से जारी लेटर में ये बताया गया है कि जिस क्षेत्र में राहुल गांधी का कार्यक्रम है, उस क्षेत्र में मूर्ति विसर्जन स्थल है। हमने किसी के दौरे को लेकर किसी को रोका नहीं है, सुरक्षा की स्थिति की जानकारी दी गई है। इस बारे में एसपीजी, दिल्ली को जानकारी दी गई है।

इससे पहले ये खबर आई थी कि राहुल के प्रस्तावित अमेठी दौरे को लेकर जिला प्रशासन ने कांग्रेस जिलाध्यक्ष को लेटर लिखा था। उन्होंने लेटर में मोहर्रम और दूर्गा पूजा की वजह से राहुल को पर्याप्त सुरक्षा न दे पाने की बात कही गई थी। इस बारे में कांग्रेस प्रवक्ता अखिलेश प्रताप सिंह ने कहा- ‘अमेठी राहुल का घर है और वो वहां जरूर आएंगे। डीएम ने लेटर में लिखा है कि राहुल गांधी का 4 अक्टूबर से 6 अक्टूबर तक अमेठी का प्रस्तावित दौरा है। इसी दौरान दुर्गा पूजा और मोहर्रम का त्योहार भी कई स्थानों पर सम्पन्न होगा। इन त्योहारों की वजह से लॉ एंड ऑर्डर बनाए रखने में जनपद का अधिकांश पुलिस बल ड्यूटी में व्यस्त रहेगा। इस वजह से राहुल गांधी के प्रस्तावित दौरे में पर्याप्य सुरक्षा-व्यवस्था देने में असुविधा होगी।

{ यह भी पढ़ें:- चुनावी मूड में नजर आए पीएम मोदी, राहुल को जवाब देते हुए शाह पर दी सफाई }

जिला प्रशासन की ओर से पत्र में अनुरोध किया गया कि इस कार्यक्रम को पांच अक्टूबर के बाद किसी अन्य तारीख अपने स्तर से नियत करने का कष्ट करें। राहुल गांधी के दौरे के बाबत इस पत्र में दौरे के समय को लेकर चिंता व्यक्त की गई। वहीं कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने कहा कि यह बेहद ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि कोई सांसद अपने क्षेत्र में नहीं जा रहा है। यह तो लोकतंत्र की हत्या है। उन्होंने कहा कि डीएम के पत्र में जिन बातों का जिक्र किया गया है, वो केवल बहाने हैं।

{ यह भी पढ़ें:- दिवाली के बाद राहुल गांधी को मिल सकता है प्रमोशन }