राहुल गांधी का कांग्रेस को सशक्त बनाने पर जोर

राहुल गांधी का कांग्रेस को सशक्त बनाने पर जोर
राहुल गांधी का कांग्रेस को सशक्त बनाने पर जोर

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि वह सभी प्रतिनिधियों की मदद से मजबूत और नई ऊर्जा से भरपूर पार्टी का निर्माण करना चाहते हैं। राहुल ने यहां पार्टी के दो दिवसीय पूर्ण अधिवेशन का उद्घाटन करने के बाद अपने संबोधन में यह बात कही।

Rahul Gandhis Emphasis On Empowering The Congress :

यह भारत की सबसे पुरानी पार्टी का 84वां अधिवेशन है। राहुल (47) ने दिसंबर 2017 में कांग्रेस के अध्यक्ष पद की कमान संभाली थी।

राहुल ने ट्वीट कर कहा, “कांग्रेस के पूर्ण अधिवेशन में प्रतिनिधियों और प्रतिष्ठित अतिथियों का स्वागत है। अगले दो दिनों में मैं आपके साथ संवाद करने और अनुभवों व नजरियों को साझा करने के लिए उत्सुक हूं, जिससे मजबूत और ज्यादा जोश से भरपूर कांग्रेस पार्टी के निर्माण में मदद मिलेगी।”

इस अधिवेशन में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (सप्रंग) की अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम, गुलाम नबी आजाद सहित पार्टी के वरिष्ठ नेतागण मौजूद थे।

कांग्रेस पार्टी का यह पूर्ण अधिवेशन आठ साल बाद आयोजित हो रहा है। इस दौरान 2019 के लोकसभा चुनाव की रणनीति भी तैयार की जाएगी।

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि वह सभी प्रतिनिधियों की मदद से मजबूत और नई ऊर्जा से भरपूर पार्टी का निर्माण करना चाहते हैं। राहुल ने यहां पार्टी के दो दिवसीय पूर्ण अधिवेशन का उद्घाटन करने के बाद अपने संबोधन में यह बात कही।यह भारत की सबसे पुरानी पार्टी का 84वां अधिवेशन है। राहुल (47) ने दिसंबर 2017 में कांग्रेस के अध्यक्ष पद की कमान संभाली थी।राहुल ने ट्वीट कर कहा, "कांग्रेस के पूर्ण अधिवेशन में प्रतिनिधियों और प्रतिष्ठित अतिथियों का स्वागत है। अगले दो दिनों में मैं आपके साथ संवाद करने और अनुभवों व नजरियों को साझा करने के लिए उत्सुक हूं, जिससे मजबूत और ज्यादा जोश से भरपूर कांग्रेस पार्टी के निर्माण में मदद मिलेगी।"इस अधिवेशन में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (सप्रंग) की अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम, गुलाम नबी आजाद सहित पार्टी के वरिष्ठ नेतागण मौजूद थे।कांग्रेस पार्टी का यह पूर्ण अधिवेशन आठ साल बाद आयोजित हो रहा है। इस दौरान 2019 के लोकसभा चुनाव की रणनीति भी तैयार की जाएगी।