राहुल गांधी का वार: कोरोना काल के दौरान बीजेपी सरकार ने एक से एक खयाली पुलाव पकाए, सिर्फ एक निकला सच

rahul gandhi

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। बुधवार को भी राहुल गांधी ने कोरोना काल के दौरान मोदी सरकार की विफलताओं को गिनाया और निशाना साधा। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने लिखा कि इस संकट काल में केंद्र सरकार ने एक से एक खयाली पुलाव पकाए, जिनमें से एक ही सच निकला।

Rahul Gandhis War During The Corona Period The Bjp Government Cooked Up Every Single Meal Only One Truth Came Out :

▪️21 दिन में कोरोना को हरायेंगे
▪️आरोग्य सेतु ऐप सुरक्षा करेगा
▪️20 लाख करोड़ का पैकेज
▪️आत्मनिर्भर बनो
▪️सीमा में कोई नहीं घुसा
▪️स्थिति संभली हुई है

लेकिन एक सच भी था:
आपदा में ‘अवसर’

इससे पहले राहुल गांधी ने लॉकडाउन के दौरान मजदूरों की मौत से जुड़ा आंकड़ा सरकार के पास नहीं होने को लेकर मंगलवार को कटाक्ष करते हुए कहा था कि श्रमिकों की मौत होना सभी ने देखा, लेकिन सरकार को इसकी खबर नहीं हुई।

उन्होंने ट्वीट किया था कि मोदी सरकार नहीं जानती कि लॉकडाउन में कितने प्रवासी मज़दूर मरे और कितनी नौकरियां गयीं।’ उन्होंने शायराना अंदाज में तंज किया, ‘‘तुमने ना गिना तो क्या मौत ना हुई? हां मगर दुख है सरकार पे असर ना हुआ, उनका मरना देखा ज़माने ने, एक मोदी सरकार है जिसे ख़बर ना हुई।’

संसद सत्र में भी विपक्ष मोदी सरकार को चीन और कोरोना के मसले पर घेर रहा है। बुधवार को राज्यसभा में इसको लेकर चर्चा भी होनी है। हालांकि, कांग्रेस नेता राहुल गांधी अभी संसद सत्र में नहीं आ रहे हैं। सोनिया गांधी के मेडिकल चेकअप के लिए राहुल अभी विदेश दौरे पर हैं।

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। बुधवार को भी राहुल गांधी ने कोरोना काल के दौरान मोदी सरकार की विफलताओं को गिनाया और निशाना साधा। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने लिखा कि इस संकट काल में केंद्र सरकार ने एक से एक खयाली पुलाव पकाए, जिनमें से एक ही सच निकला। ▪️21 दिन में कोरोना को हरायेंगे ▪️आरोग्य सेतु ऐप सुरक्षा करेगा ▪️20 लाख करोड़ का पैकेज ▪️आत्मनिर्भर बनो ▪️सीमा में कोई नहीं घुसा ▪️स्थिति संभली हुई है लेकिन एक सच भी था: आपदा में ‘अवसर’ https://twitter.com/RahulGandhi/status/1306072441840566273?s=20 इससे पहले राहुल गांधी ने लॉकडाउन के दौरान मजदूरों की मौत से जुड़ा आंकड़ा सरकार के पास नहीं होने को लेकर मंगलवार को कटाक्ष करते हुए कहा था कि श्रमिकों की मौत होना सभी ने देखा, लेकिन सरकार को इसकी खबर नहीं हुई। उन्होंने ट्वीट किया था कि मोदी सरकार नहीं जानती कि लॉकडाउन में कितने प्रवासी मज़दूर मरे और कितनी नौकरियां गयीं।' उन्होंने शायराना अंदाज में तंज किया, ‘‘तुमने ना गिना तो क्या मौत ना हुई? हां मगर दुख है सरकार पे असर ना हुआ, उनका मरना देखा ज़माने ने, एक मोदी सरकार है जिसे ख़बर ना हुई।' संसद सत्र में भी विपक्ष मोदी सरकार को चीन और कोरोना के मसले पर घेर रहा है। बुधवार को राज्यसभा में इसको लेकर चर्चा भी होनी है। हालांकि, कांग्रेस नेता राहुल गांधी अभी संसद सत्र में नहीं आ रहे हैं। सोनिया गांधी के मेडिकल चेकअप के लिए राहुल अभी विदेश दौरे पर हैं।