1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. घाटे में जाने के बाद रेलवे ने उठाया सख्त कदम, कर्मचारियों के वेतन और भत्ते में होगी कटौती

घाटे में जाने के बाद रेलवे ने उठाया सख्त कदम, कर्मचारियों के वेतन और भत्ते में होगी कटौती

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली। कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने लाॅकडाउन को 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया है। इसी के साथ भारतीय रेलवे ने भी ऐेलान किया था कि लाॅकडाउन हटने तक यात्रियों के लिए सभी ट्रेनें बंद रहेंगी। गौरतलब है कि पहली बार लाॅकडाउन के ऐलान से ही ट्रेन बंद है जिसका रेलवे को खासा नुकसान भी भुगतना पड़ रहा है। वहीं खबर आ रही है कि लाॅकडाउन में नुकसान झेल रहा रेलवे अब अपने कर्मचारियों के भत्ते और वेतन मे कटौती करने की सोच रहा है।

जी हां मीडिया रिपोर्ट के अनुसार रेल मंत्रालय 13 लाख से ज्यादा अधिकारियों और कर्मचारियों के वेतन व भत्ते में कटौती करने की योजना बना रहा है। रेलवे के अनुसार ड्यूटी करने के लिए कर्मचारियों को भत्ता क्यों दिया जाए। लॉकडाउन की वजह से भारतीय रेलवे पहले ही गंभीर आर्थिक तंगी से गुजर रहा है। बता दें कि इस योजना के चलते ट्रेन ड्राइवर और गार्ड को ट्रेन चलाने पर प्रति किलोमीटर के हिसाब से मिलने वाला भत्ता नहीं दिया जाएगा। टीए, डीए सहित ओवर टाइम ड्यूटी के भत्तों को समाप्त किया जाएगा। ट्रेन ड्राइवर और गार्ड को ट्रेन चलाने पर प्रति किलोमीटर के हिसाब से मिलने वाला भत्ता नहीं दिया जाएगा।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक रेलवे कर्मचारियों के वेतन और भत्ते में 50 फीसदी तक की कटौती की जा सकती है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इस योजना के तहत मरीज देखभाल, किलोमीटर समेत नॉन प्रैक्ट्रिस भत्ता में एक साल तक 50 फीसदी कटौती की जा सकती है। वहीं अगर कर्मचारी एक महीने ऑफिस नहीं आता है, तो परिवहन भत्ता 100 फीसदी कटा जा सकता है। इसके अतिरिक्त बच्चों के पढ़ाई भत्ता के लिए 28 हजार मिलते हैं, जिसकी समीक्षा होनी अभी बाकी है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...