1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. उत्तराखंड में बारिश से जीवन हुआ बेहाल, अब तक 40 लोगों की गई जान, रेस्क्यू जारी

उत्तराखंड में बारिश से जीवन हुआ बेहाल, अब तक 40 लोगों की गई जान, रेस्क्यू जारी

उत्तराखंड (Uttarakhand) में लगातार हो रही बारिश के कारण वहां का जन जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। तेज हो रही बारिश के साथ ही भूस्खलन की घटनाएं भी बढ़ गयीं हैं। प्रशासन की तरफ से राहत और बचाव कार्य किया जा रहा है। बारिश और भूस्खलन के कारण अभी तक 40 लोगों की जान चली गयी है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

कुमाऊं। उत्तराखंड (Uttarakhand) में लगातार हो रही बारिश के कारण वहां का जन जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। तेज हो रही बारिश के साथ ही भूस्खलन की घटनाएं भी बढ़ गयीं हैं। प्रशासन की तरफ से राहत और बचाव कार्य किया जा रहा है। बारिश और भूस्खलन के कारण अभी तक 40 लोगों की जान चली गयी है।

पढ़ें :- उत्तराखंड के राजनीतिक हलकों में कयासों का बाजार गर्म, चुनावी मौसम में हरीश और त्रिवेंद्र की मुलाकात से चढ़ा सियासी पारा

नैनीताल (Nainital) जिले में ही 25 लोगों की मौत हुई है। मरने वालों में 14 उत्तर प्रदेश और बिहार के मजदूर शामिल हैं। नैनीताल जिले के रामगढ़ ब्लॉक में 9 मजदूर घर में ही जिंदा दफन हो गए। वहीं, झुतिया गांव में ही एक मकान मलबे में दबने से दंपति की मौत हो गई, जबकि उनका बेटा अभी लापता है।

दोषापानी में 5 मजदूरों की दीवार के नीचे दबने से मौत हो गई। वहीं, तेज बारिश और भूस्खलन की घटनाओं को देखते हुए प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट पर है। मंगलवार देर रात प्रदेश में आई आपदा के चलते एसडीआरएफ की टीमें रातभर बचाव और राहत अभियान में जुटी रहीं।

एसडीआरएफ ने इस दौरान छह सौ से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने में कामयाबी हासिल की। प्रदेश भर एसडीआरएफ की 29 स्थानों पर पोस्ट हैं। मौसम विभाग की ओर से भारी बारिश की चेतावनी के बाद, सभी टीमों को पहले ही हाई अलर्ट पर रखा गया था।

पढ़ें :- Big Accident in Uttarakhand : बागेश्वर में पांच पर्यटकों की मौत, राहत व बचाव कार्य जारी
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...