राजस्थान: 4 साल के मासूम की मौत, सड़क पर लिखा- घर में रहें, कोरोना से बचने का यही है उपाय

rajsthan
राजस्थान: 4 साल के मासूम की मौत, सड़क पर लिखा- घर में रहें, कोरोना से बचने का यही है उपाय

जयपुर। भारत मेें तेजी के साथ कोरोना संक्रमि मरीजो की संख्या बढ़ती चली जा रही है वहीं राजस्थान में 4 वर्ष के मासूम की कोरोना के कारण मौत होने से राजस्थान सरकार काफी चिंतित नजर आ रही है। इसी का नतीजा है कि अब सरकार ने सड़कों पर भी लॉकडाउन का पालन करने के बारें में लिखना शुरू कर दिया है।

Rajasthan 4 Year Olds Death Written On The Road Stay At Home This Is The Way To Avoid Corona :

राजस्थान में कोरोनो संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। बुधवार सुबह 4 साल के बच्चे समेत 5 नए पॉजिटिव। इनमें से तीन जयपुर के रामगंज और घाट गेट इलाके से हैं। तीनों पहले पॉजिटिव मिल चुके लोगों के संपर्क में आने से संक्रमित हुए। वहीं, बीकानेर और बांसवाड़ा में भी एक-एक केस सामने आया। इसके बाद राजस्थान में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 348 पर पहुंच गया है।

झुंझुनूं में सड़कों पर लिखा गया है कि आब घर पर ही रहें, कोरोना से बचने का सिर्फ यही एक उपाय बचा है। झुंझनू में अबतक 23 केस सामने आ चुके हैं। पूरे प्रदेश में झूंझुनूं ऐसा जिला है, जहां कोरोना सबसे ज्यादा आठ कस्बों तक पहुंच गया है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के बाद बॉर्डर एरिया को सील कर दिया गया है। अब जिले में प्रवेश के सभी मार्गों पर मेडिकल टीम तैनात रहेगी, जो आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की जांच करेगी और उसके बाद ही जिले में प्रवेश दिया जाएगा। यदि जांच में संदिग्ध लगा तो उसे वहां से सीधे क्वारेंटाइन भेज दिया जाएगा।

जयपुर। भारत मेें तेजी के साथ कोरोना संक्रमि मरीजो की संख्या बढ़ती चली जा रही है वहीं राजस्थान में 4 वर्ष के मासूम की कोरोना के कारण मौत होने से राजस्थान सरकार काफी चिंतित नजर आ रही है। इसी का नतीजा है कि अब सरकार ने सड़कों पर भी लॉकडाउन का पालन करने के बारें में लिखना शुरू कर दिया है। राजस्थान में कोरोनो संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। बुधवार सुबह 4 साल के बच्चे समेत 5 नए पॉजिटिव। इनमें से तीन जयपुर के रामगंज और घाट गेट इलाके से हैं। तीनों पहले पॉजिटिव मिल चुके लोगों के संपर्क में आने से संक्रमित हुए। वहीं, बीकानेर और बांसवाड़ा में भी एक-एक केस सामने आया। इसके बाद राजस्थान में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 348 पर पहुंच गया है। झुंझुनूं में सड़कों पर लिखा गया है कि आब घर पर ही रहें, कोरोना से बचने का सिर्फ यही एक उपाय बचा है। झुंझनू में अबतक 23 केस सामने आ चुके हैं। पूरे प्रदेश में झूंझुनूं ऐसा जिला है, जहां कोरोना सबसे ज्यादा आठ कस्बों तक पहुंच गया है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के बाद बॉर्डर एरिया को सील कर दिया गया है। अब जिले में प्रवेश के सभी मार्गों पर मेडिकल टीम तैनात रहेगी, जो आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की जांच करेगी और उसके बाद ही जिले में प्रवेश दिया जाएगा। यदि जांच में संदिग्ध लगा तो उसे वहां से सीधे क्वारेंटाइन भेज दिया जाएगा।