राजस्थान: रेप के बाद 6 साल की मासूम बच्ची की गला घोंट कर हत्या, CM बोले-दोषियों को बख्सा नही जायेगा

6-year-old innocent girl murdered after rape
राजस्थान: रेप के बाद 6 साल की मासूम बच्ची की गला घोंट कर हत्या, CM बोले-दोषियों को बख्सा नही जायेगा

जयपुर। हैदराबाद में इन्सानियत को शर्मसार करते हुए चार वहशी दरिंदो ने एक महिला डॉक्टर का दुष्कर्म किया और बाद में उसकी निर्मम हत्या कर दी। इस मामले को लेकर सड़क से लेकर संसद तक आक्रोश देखने को मिल रहा है वहीं लोगों ने सरकार से इन मामलो में दोषियों को कड़ी सजा दिलवाने की मांग की है। वहीं अभी भी ये घटनाएं रूक नही रही हैं। राजस्थान में 6 साल की मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के बाद उसी के बेल्ट से गला घोंट कर हत्या कर दी गयी और शव को झाड़ियो में फेंक दिया गया।

Rajasthan 6 Year Old Innocent Girl Was Strangled To Death After Rape Cm Said Convicts Will Not Be Spared :

 

पुलिस के मुताबिक 6 साल की मासूम बच्ची अपने ननिहाल में रहती थी। शनिवार को जब स्कूल से घर लोटी तो इसी दौरान वो गायब हो गयी। परिजनो को लगा कि वो कहीं खेल रही होगी लेकिन जब देर शाम तक नही लौटी तो बच्ची के मामा ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस खोजबीन कर ही रही थी कि अचानक रविवार सुबह परिजनो को झाड़ियों में बच्ची का शव मिला। बच्ची के गले में उसका स्कूली बेल्ट कसा हुआ था जबकि घटनास्थल पर ही शराब की बोतल और कचौड़ी बरामद हुई।

जैसे ही इस घटना के बारे में पुलिस के आलाधिकारियों को जानकारी हुई तो अधिकारियों ने मौके पर एफएसएल की टीम से छानबीन करवाई। वहीं बच्ची के पोस्टमार्टम में दुष्कर्म की पुष्टि हुई है। हैरानी की बात ये है कि बच्ची स्कूल से चली गयी थी जबकि बच्ची का बैग स्कूल में ही मिला है। टोंक जिले के एसपी आदर्श सिद्धू ने कहा, ‘बालिका के साथ दुष्कर्म हुआ है और गला घोटकर उसकी हत्या की गई है। हमें महत्वपूर्ण सुराग मिले हैं। हम जल्द मामले का खुलासा कर देगें।

इस मामले को लेकर राजस्थान में भी लोगों ने सरकार पर सवाल उठाना शुरू कर दिये हैं। बताया जा रहा है कि पहले बच्ची का अपहरण किया गया ​फिर आरोपियों ने शराब पीकर घटना को अंजाम दिया और बाद में उसी के बेल्ट से गला घोंटकर हत्या कर दी। वहीं राज्स्थान की कांग्रेस सरकार के सीएम अशोक गहलोत ने ट्वीट किया, ‘(अलीगढ़) टोंक, राजस्थान में मासूम बच्ची के दुष्कर्म और हत्या की घटना बेहद निंदनीय और शर्मनाक है. इस जघन्य अपराध के लिए दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.’

जयपुर। हैदराबाद में इन्सानियत को शर्मसार करते हुए चार वहशी दरिंदो ने एक महिला डॉक्टर का दुष्कर्म किया और बाद में उसकी निर्मम हत्या कर दी। इस मामले को लेकर सड़क से लेकर संसद तक आक्रोश देखने को मिल रहा है वहीं लोगों ने सरकार से इन मामलो में दोषियों को कड़ी सजा दिलवाने की मांग की है। वहीं अभी भी ये घटनाएं रूक नही रही हैं। राजस्थान में 6 साल की मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के बाद उसी के बेल्ट से गला घोंट कर हत्या कर दी गयी और शव को झाड़ियो में फेंक दिया गया।   पुलिस के मुताबिक 6 साल की मासूम बच्ची अपने ननिहाल में रहती थी। शनिवार को जब स्कूल से घर लोटी तो इसी दौरान वो गायब हो गयी। परिजनो को लगा कि वो कहीं खेल रही होगी लेकिन जब देर शाम तक नही लौटी तो बच्ची के मामा ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस खोजबीन कर ही रही थी कि अचानक रविवार सुबह परिजनो को झाड़ियों में बच्ची का शव मिला। बच्ची के गले में उसका स्कूली बेल्ट कसा हुआ था जबकि घटनास्थल पर ही शराब की बोतल और कचौड़ी बरामद हुई। जैसे ही इस घटना के बारे में पुलिस के आलाधिकारियों को जानकारी हुई तो अधिकारियों ने मौके पर एफएसएल की टीम से छानबीन करवाई। वहीं बच्ची के पोस्टमार्टम में दुष्कर्म की पुष्टि हुई है। हैरानी की बात ये है कि बच्ची स्कूल से चली गयी थी जबकि बच्ची का बैग स्कूल में ही मिला है। टोंक जिले के एसपी आदर्श सिद्धू ने कहा, 'बालिका के साथ दुष्कर्म हुआ है और गला घोटकर उसकी हत्या की गई है। हमें महत्वपूर्ण सुराग मिले हैं। हम जल्द मामले का खुलासा कर देगें। इस मामले को लेकर राजस्थान में भी लोगों ने सरकार पर सवाल उठाना शुरू कर दिये हैं। बताया जा रहा है कि पहले बच्ची का अपहरण किया गया ​फिर आरोपियों ने शराब पीकर घटना को अंजाम दिया और बाद में उसी के बेल्ट से गला घोंटकर हत्या कर दी। वहीं राज्स्थान की कांग्रेस सरकार के सीएम अशोक गहलोत ने ट्वीट किया, '(अलीगढ़) टोंक, राजस्थान में मासूम बच्ची के दुष्कर्म और हत्या की घटना बेहद निंदनीय और शर्मनाक है. इस जघन्य अपराध के लिए दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.'