राजस्थान के CM अशोक गहलोत ने तिहाड़ में चिदंबरम से की मुलाकात, केन्द्र पर साधा निशाना

CM Gahlaut
राजस्थान के CM अशोक गहलोत ने तिहाड़ में चिदंबरम से की मुलाकात, केन्द्र पर साधा निशाना

नई दिल्ली। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और पूर्व केन्द्रीय वित्तमंत्री पी चिदंबरम से मुलाकात की। इस दौरान चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम भी गहलोत के साथ मौजूद रहे। मुलाकात के बाद गहलोत ने मीडिया से बात की। उन्होंने कहा कि चिदंबरम को साजिशन जेल में बंद किया गया है।

Rajasthan Cm Ashok Gehlot Meets Chidambaram In Tihar Targets The Center :

अशोक गहलोत ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट एक केस में उन्हें जमानत दे चुका है। उसके बाद दूसरे केस में भी वही बातें रखी जाती हैं। हम लोग 25 साल पहले मंत्री थे। वह कॉमर्स में थे, मैं टेक्सटाइल में था। तब से मैं देख रहा हूं, वे उससे पहले से देश की सेवा करते आ रहे हैं। 45 साल की सेवा के बाद यह इनाम मिला है उनको, बिना कोई मुकदमे के, बिना कोई केस के, बिना कोई आरोप के।

गहलोत ने कहा कि इंद्राणी मुखर्जी खुद बेटी की हत्या के केस में जेल में बंद है। उनकी गवाही को आधार बनाकर पी चिंदबरम को जेल में बंद कर दिया। देश में लोकतंत्र की हत्या की जा रही है।

उन्होंने कहा कि आज भी चिंदबरम को देश की चिंता है। हम जब बात कर रहे थे देश में जो मंदी का दौर चल रहा है उसमें क्या हालात होंगे, एक्सपोर्ट कम हो गया। किसानों का क्या होगा। वह आज भी जेल में बैठे-बैठे चिंता कर रहे हैं। आप सोच सकते हैं कि जो देशभक्त होगा वह हमेशा चिंता करेगा।

अशोक गहलोत ने कहा कि विभिन्न राज्यों में 80 से ज्यादा लोगों पर केस दर्ज हो चुके हैं। राज्यों में प्रधानमंत्री कार्यालय मॉनिटरिंग करता है। टारगेट तय किए जाते हैं। फिर राज्यों की एजेंसियां सक्रिय हो जाती है। वह कार्रवाई शुरू कर देती है। टेलीफोन पर बातचीत करते हुए भी लोग डरे हुए हैं।

गहलोत ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी आज जिस प्रकार से अनुच्छेद-370 की बात करते हैं, कभी सर्जिकल स्ट्राइक की बात करते हैं, चुनाव कल है आज सर्जिकल स्ट्राइक हो रही है तो यह देश मूर्ख नहीं है, यह देश बहुत समझदार है। सरकार चुनाव जीतने के लिए हथकंडे अपना रही है।

नई दिल्ली। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और पूर्व केन्द्रीय वित्तमंत्री पी चिदंबरम से मुलाकात की। इस दौरान चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम भी गहलोत के साथ मौजूद रहे। मुलाकात के बाद गहलोत ने मीडिया से बात की। उन्होंने कहा कि चिदंबरम को साजिशन जेल में बंद किया गया है। अशोक गहलोत ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट एक केस में उन्हें जमानत दे चुका है। उसके बाद दूसरे केस में भी वही बातें रखी जाती हैं। हम लोग 25 साल पहले मंत्री थे। वह कॉमर्स में थे, मैं टेक्सटाइल में था। तब से मैं देख रहा हूं, वे उससे पहले से देश की सेवा करते आ रहे हैं। 45 साल की सेवा के बाद यह इनाम मिला है उनको, बिना कोई मुकदमे के, बिना कोई केस के, बिना कोई आरोप के। गहलोत ने कहा कि इंद्राणी मुखर्जी खुद बेटी की हत्या के केस में जेल में बंद है। उनकी गवाही को आधार बनाकर पी चिंदबरम को जेल में बंद कर दिया। देश में लोकतंत्र की हत्या की जा रही है। उन्होंने कहा कि आज भी चिंदबरम को देश की चिंता है। हम जब बात कर रहे थे देश में जो मंदी का दौर चल रहा है उसमें क्या हालात होंगे, एक्सपोर्ट कम हो गया। किसानों का क्या होगा। वह आज भी जेल में बैठे-बैठे चिंता कर रहे हैं। आप सोच सकते हैं कि जो देशभक्त होगा वह हमेशा चिंता करेगा। अशोक गहलोत ने कहा कि विभिन्न राज्यों में 80 से ज्यादा लोगों पर केस दर्ज हो चुके हैं। राज्यों में प्रधानमंत्री कार्यालय मॉनिटरिंग करता है। टारगेट तय किए जाते हैं। फिर राज्यों की एजेंसियां सक्रिय हो जाती है। वह कार्रवाई शुरू कर देती है। टेलीफोन पर बातचीत करते हुए भी लोग डरे हुए हैं। गहलोत ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी आज जिस प्रकार से अनुच्छेद-370 की बात करते हैं, कभी सर्जिकल स्ट्राइक की बात करते हैं, चुनाव कल है आज सर्जिकल स्ट्राइक हो रही है तो यह देश मूर्ख नहीं है, यह देश बहुत समझदार है। सरकार चुनाव जीतने के लिए हथकंडे अपना रही है।