प्रेमी जोड़ों को मिला राजस्थान पुलिस का साथ, कहा- ‘मुग़ल-ए-आज़म’ का जमाना गया

mugale ajam
प्रेमी जोड़ों को मिला राजस्थान पुलिस का साथ, कहा- 'मुग़ल-ए-आज़म' का जमाना गया

जयपुर। राजस्थान में अब प्यार करना गुनाह नहीं होगा। राजस्थान विधानसभा में ऑनर किलिंग को रोकने के लिए बिल पारित हुआ। इस विधेयक को लेकर लोगों में जागरुकता फैलाने के लिए राज्य सरकार ट्विटर पर प्रचार-प्रसार भी शुरू कर दिया है। राजस्थान पुलिस ने बॉलीवुड फिल्म ‘मुग़ल-ए-आज़म’ के एक सीन को लेकर एक पोस्टर बनाया है। इस पोस्टर में लिखा गया है कि ‘जब प्यार किया तो डरना क्या?’ क्योंकि अब राजस्थान सरकार का कानून है ऑनर किलिंग के खिलाफ।’

Rajasthan First State Pass Honor Killing Bill Police Twitter :

तीन दिन पहले साेमवार काे ही विधानसभा में ऑनर किलिंग बिल-2019 पारित हुआ है। यह कानून लागू करने वाला राजस्थान प्रदेश में पहला राज्य है। यह कानून बनते ही राजस्थान पुलिस ने इसके प्रचार के लिए भी फिल्म मुगल ए आजम का ही सीन लिया है, जिसे अपने ऑफिशियल ट्वीटर पर पाेस्ट कर लिखा है कि अब मुगल ए आजम का जमाना गया। अब प्यार करना काेई गुनाह नहीं है। अगर प्यार करने वालाें काे काेई शारीरिक नुकसान पहुंचाता है ताे उसे आजीवन कारावास तक हाे सकता है। इसके अलावा 5 लाख रुपए तक का जुर्माना भी लग सकता है। आखिरी पंक्ति में दिल का चिह्न लगाकर लिखा है…क्याेंकि प्यार करना काेई गुनाह नहीं है।

ऑनर किलिंग के दायरे में ये

प्रदेश में ऑनर किलिंग बिल के तहत यदि दो वयस्क सहमति से अंतरजातीय विवाह करें और परिजन किसी एक या दोनों की हत्या कर दें तो यह ऑनर किलिंग माना जाएगा। अंतर सामुदायिक, अंतरधार्मिक, समुदाय में शादी पर भी ये नियम लागू होंगे।

जयपुर। राजस्थान में अब प्यार करना गुनाह नहीं होगा। राजस्थान विधानसभा में ऑनर किलिंग को रोकने के लिए बिल पारित हुआ। इस विधेयक को लेकर लोगों में जागरुकता फैलाने के लिए राज्य सरकार ट्विटर पर प्रचार-प्रसार भी शुरू कर दिया है। राजस्थान पुलिस ने बॉलीवुड फिल्म 'मुग़ल-ए-आज़म' के एक सीन को लेकर एक पोस्टर बनाया है। इस पोस्टर में लिखा गया है कि 'जब प्यार किया तो डरना क्या?' क्योंकि अब राजस्थान सरकार का कानून है ऑनर किलिंग के खिलाफ।' तीन दिन पहले साेमवार काे ही विधानसभा में ऑनर किलिंग बिल-2019 पारित हुआ है। यह कानून लागू करने वाला राजस्थान प्रदेश में पहला राज्य है। यह कानून बनते ही राजस्थान पुलिस ने इसके प्रचार के लिए भी फिल्म मुगल ए आजम का ही सीन लिया है, जिसे अपने ऑफिशियल ट्वीटर पर पाेस्ट कर लिखा है कि अब मुगल ए आजम का जमाना गया। अब प्यार करना काेई गुनाह नहीं है। अगर प्यार करने वालाें काे काेई शारीरिक नुकसान पहुंचाता है ताे उसे आजीवन कारावास तक हाे सकता है। इसके अलावा 5 लाख रुपए तक का जुर्माना भी लग सकता है। आखिरी पंक्ति में दिल का चिह्न लगाकर लिखा है...क्याेंकि प्यार करना काेई गुनाह नहीं है। ऑनर किलिंग के दायरे में ये प्रदेश में ऑनर किलिंग बिल के तहत यदि दो वयस्क सहमति से अंतरजातीय विवाह करें और परिजन किसी एक या दोनों की हत्या कर दें तो यह ऑनर किलिंग माना जाएगा। अंतर सामुदायिक, अंतरधार्मिक, समुदाय में शादी पर भी ये नियम लागू होंगे।