राजस्थान: कांग्रेस विधायक दल की बैठक में गहलोत सरकार का सर्वसम्मति से किया गया समर्थन

ashok
राजस्थान: कांग्रेस विधायक दल की बैठक में गहलोत सरकार का सर्वसम्मति से किया गया समर्थन

जयपुर। राजस्थान में जारी सियासी उठापटक के बीच सीएम अशोक गहलोत अपनी सरकार बचाते हुए दिख रहे हैं। उन्होंने मीडिया के सामने विधायकों की परेड़ कराई। इस दौरान कांग्रेस ने दावा कि इस बैठक में 107 विधायक मौजूद रहे। वहीं, सीएम आवास पर कांग्रेस विधायक दल की बैठक खत्म हो गई। इसके बाद बसों में सवार हो कर कांग्रेस विधायक सीएम आवास से निकल चुके हैं।

Rajasthan Gehlot Governments Unanimous Support In Congress Legislature Party Meeting :

बताया जा रहा है कि यह बैठक करीब तीन घंटे देर से शुरू हो हुई। गौरतलब है कि पहले दावा किया गया था कि कांग्रेस के पास 109 विधायकों का समर्थन है। पार्टी ने उप मुख्यमंत्री और पार्टी की राज्य इकाई के अध्यक्ष सचिन पायलट के दावे को खारिज कर दिया है कि सरकार के पास बहुमत नहीं है। बता दें कि पार्टी ने इस बैठक को लेकर व्हिप जारी किया है।

राजस्थान कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे ने जानकारी दी थी कि कांग्रेस विधायक दल की बैठक में बगैर किसी सूचना के न शामिल होने वाले विधायकों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि, राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने बाजी पलट दी है। डिप्टी सीएम सचिन पायलट की बगावत के बाद सरकार पर छाए बादल छंटते हुए जा रहे हैं।

सीएम आवास के अंदर अशोक गहलोत ने मीडिया के सामने अपने समर्थक विधायकों की परेड कराई। इस दौरान कांग्रेस की गहलोत सरकार ने दावा किया है कि उनके पास 109 विधायक हैं। यानी बहुमत के आंकड़े से ज्यादा विधायक उनके पास हैं।

हालांकि, सचिन पायलट का कहना है कि उनके पास 25 विधायक हैं। लेकिन फिलहाल अशोक गहलोत की सरकार बचती नजर आ रही है। वहीं अब प्रियंका गांधी ने भी इस संकट को खत्म करने के लिए मार्चो संभाल लिया है। प्रियंका के अलावा राहुल गांधी समेत कुल 5 बड़े नेताओं ने पायलट से बात कर उन्हें समझाने की कोशिश की है।

 

जयपुर। राजस्थान में जारी सियासी उठापटक के बीच सीएम अशोक गहलोत अपनी सरकार बचाते हुए दिख रहे हैं। उन्होंने मीडिया के सामने विधायकों की परेड़ कराई। इस दौरान कांग्रेस ने दावा कि इस बैठक में 107 विधायक मौजूद रहे। वहीं, सीएम आवास पर कांग्रेस विधायक दल की बैठक खत्म हो गई। इसके बाद बसों में सवार हो कर कांग्रेस विधायक सीएम आवास से निकल चुके हैं। बताया जा रहा है कि यह बैठक करीब तीन घंटे देर से शुरू हो हुई। गौरतलब है कि पहले दावा किया गया था कि कांग्रेस के पास 109 विधायकों का समर्थन है। पार्टी ने उप मुख्यमंत्री और पार्टी की राज्य इकाई के अध्यक्ष सचिन पायलट के दावे को खारिज कर दिया है कि सरकार के पास बहुमत नहीं है। बता दें कि पार्टी ने इस बैठक को लेकर व्हिप जारी किया है। राजस्थान कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे ने जानकारी दी थी कि कांग्रेस विधायक दल की बैठक में बगैर किसी सूचना के न शामिल होने वाले विधायकों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि, राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने बाजी पलट दी है। डिप्टी सीएम सचिन पायलट की बगावत के बाद सरकार पर छाए बादल छंटते हुए जा रहे हैं। सीएम आवास के अंदर अशोक गहलोत ने मीडिया के सामने अपने समर्थक विधायकों की परेड कराई। इस दौरान कांग्रेस की गहलोत सरकार ने दावा किया है कि उनके पास 109 विधायक हैं। यानी बहुमत के आंकड़े से ज्यादा विधायक उनके पास हैं। हालांकि, सचिन पायलट का कहना है कि उनके पास 25 विधायक हैं। लेकिन फिलहाल अशोक गहलोत की सरकार बचती नजर आ रही है। वहीं अब प्रियंका गांधी ने भी इस संकट को खत्म करने के लिए मार्चो संभाल लिया है। प्रियंका के अलावा राहुल गांधी समेत कुल 5 बड़े नेताओं ने पायलट से बात कर उन्हें समझाने की कोशिश की है।