केंद्रीय जेल में बंद पाकिस्तानी कैदी की हत्या, जांच के आदेश

a.jpeg

जयपुर। राजस्थान के जयपुर की केंद्रीय जेल में बंद एक पाकिस्तानी कैदी की बुधवार को पत्थर मारकर हत्या कर दी गयी। राजस्थान के पुलिस महानिदेशक कपिल गर्ग ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि जयपुर जेल में एक पाकिस्तानी कैदी की हत्या हुई है। घटना की जांच न्यायिक मजिस्ट्रेट व पुलिस द्वारा अलग अलग की जाएगी।

Rajasthan Pakistani Prisoner Lynched To Death In Jaipur Central Jail :

राज्य के महानिरीक्षक जेल रूपिंदर सिंह ने बताया पाकिस्तानी नागरिक 50 वर्षीय शकरउल्ल नाम का यह कैदी 2011 से जयपुर की केंद्रीय जेल में बंद था। 2017 में उसे आजीवन कारावास की सजा हुई थी। गैरकानूनी गतिविधि निरोधक कानून के तहत आजीवन कारावास की सजा काट रहा था।

उन्होंने बताया कि उसके साथ कुछ और पाकिस्तानी कैदी भी इसी जेल में बंद हैं। सियालकोट पाकिस्तान के रहने वाले शकरउल्ला को 2011 में गिरफ्तार किया गया था।

पुलिस के एक अन्य अधिकारी के अनुसार जेल कोठरी में लगे टीवी की आवाज को लेकर बुधवार दोपहर लगभग एक बजे कैदी आपस में भिड़ गए। पत्थर लगने से शकरउल्ला की मौत हो गयी। उन्होंने कहा कि मामले की न्यायिक जांच करवाई जाएगी। घटना की जानकारी मिलते ही राज्य के आला पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं।

जयपुर। राजस्थान के जयपुर की केंद्रीय जेल में बंद एक पाकिस्तानी कैदी की बुधवार को पत्थर मारकर हत्या कर दी गयी। राजस्थान के पुलिस महानिदेशक कपिल गर्ग ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि जयपुर जेल में एक पाकिस्तानी कैदी की हत्या हुई है। घटना की जांच न्यायिक मजिस्ट्रेट व पुलिस द्वारा अलग अलग की जाएगी।राज्य के महानिरीक्षक जेल रूपिंदर सिंह ने बताया पाकिस्तानी नागरिक 50 वर्षीय शकरउल्ल नाम का यह कैदी 2011 से जयपुर की केंद्रीय जेल में बंद था। 2017 में उसे आजीवन कारावास की सजा हुई थी। गैरकानूनी गतिविधि निरोधक कानून के तहत आजीवन कारावास की सजा काट रहा था।उन्होंने बताया कि उसके साथ कुछ और पाकिस्तानी कैदी भी इसी जेल में बंद हैं। सियालकोट पाकिस्तान के रहने वाले शकरउल्ला को 2011 में गिरफ्तार किया गया था।पुलिस के एक अन्य अधिकारी के अनुसार जेल कोठरी में लगे टीवी की आवाज को लेकर बुधवार दोपहर लगभग एक बजे कैदी आपस में भिड़ गए। पत्थर लगने से शकरउल्ला की मौत हो गयी। उन्होंने कहा कि मामले की न्यायिक जांच करवाई जाएगी। घटना की जानकारी मिलते ही राज्य के आला पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं।